तीसरी लहर, दिल्ली में लग सकता है मिनी लाॅकडउन!

पाबंदियों के साथ मनाया गया छठ पर्व, प्रतिबंध को लेकर आपस में भिड़ गई भाजपा-आप। विवाह में शामिल होने वालों की संख्या पचास करने से मैरेज फैमिली समेत बैंक्वेट इंडस्ट्री नई मुसीबत में।

शंभु सुमन

नई दिल्ली। एक नजर दिल्ली में कोरोना संक्रमण के आकंड़ों पर डालें :

22 नवंबरः 6746 नए मामले और 121 की मौत।
21 नवंबरः 5879 नए मामले और 111 की मौत।
17,18 और 19 नवंबर को दर्ज केस 5,23,117 तक पहुंच गए और 8270 मौतें।

यह भी पढ़ेंhttps://apnipatrika.com/increasing-corona-cases-leads-to-curfew-in-few-states/

दीपावली के वक्त रोज कोरोना की नए मामले 7 से 8 हजार तक पहुंच गए थे। ये आंकड़े हर किसी को डराने वाले हैं। इसे लेकर ही लोगों में मिनी लाॅकडाउन की आशंका भी बन गई है। जबकि दिल्ली सरकार ने लिखे जाने तक ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया है। हालांकि संक्रमण प्रसार को रोकने के लिए एहतियात केतौर पर जुर्माना, मास्क वितरण और शादि-ब्याह के आयोजन में 50 से अधिक लोगों के शामिल होने पर पाबंदी लगाई गई है।

दिल्ली सरकार ने सार्वजनिक स्थानों पर मास्क या फेस कवर नहीं पहनने के लिए जुर्माने को 500 से बढ़ाकर 2,000 रुपये कर दिया है। साथ ही शारीरिक दूरी के नियम और क्वारंटीन के नियम पालन नहीं करने और सार्वजनिक स्थान पर थूकने पर भी दो हजार रुपये के जुर्माने का प्रावधान है। इसके अलावा दिल्ली में शादी समारोहों में केवल 50 लोगों के शामिल होने की अनुमति दी गई है। पहले दो सौ लोगों को शादियों में शामिल होने की अनुमति थी।

यह भी पढ़ेंhttps://apnipatrika.com/banquet-hall-owner-in-delhi-are-upset-with-delhi-govt/

इस आदेश को वैंक्वेट हाॅल और शादी से जुड़े लोग तुगलकी फरमान बताया है। इस बावत उन्होंने बैठक कर सरकार से सख्ती में ढील देने की मांग की है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आप नेताओं और कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि वे दिल्ली के लोगों को मास्क वितरित करें। इसमें जरा भी संदेह नहीं कि राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के लगातार बढ़ते मामले से तीसरी लहर जैसी स्थिति बन गई है। ऐसा अनलाॅक-6 में मिली कई छूट की वजह से लोगों में बेफ्रिक्री बढ़ने से हुआ। नतीजा बीते दो सप्ताह में ही एक लाख कोविड-19 के नए मरीज आ गए थे।

दीपावली में पटाखे जलाने पर रोक के बावजूद लोगों ने जमकर पटाखे जलाए। इसका खामियाजा चार दिनों बाद मनाए जाने वाले बिहार प्रदेश के लोक पर्व छठ पर पड़ा। पर्व की मान्यता के अनुसार यमुना घाटों पर दो दिन सामूहिक सूर्य को अध्र्य देने की परंपरा है। दिल्ली सरकार ने इस पर पाबंदी लगा दी थी। इसे लेकर भाजपा ने आम आदमी पार्टी को आड़े हाथों लेते हुए उस पर आस्था आहत करने के आरोप लगा दिए। दोनों के बीच खूब आरोप-कृप्रत्यारोप हुए। हालांकि लोगों ने दिल्ली सरकार के फैसले को मानते हुए घरों में ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए छठ मनाया।

Pune, MH, India – October 17, 2009 : Taken this picture while people celebrating festival of light – diwali.

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर कारोबारियों और लोगों में बाजार बंद होने की भी आशंका बन गई। इस बारे में केजरीवाल ने साफ तौर पर कहा कि वे बाजार नहीं बंद करना चाहते हं, मगर सभी से सहयोग की अपेक्षा करते हैं। उन्होंने कहा

अगर बाजार में कोई बगैर मास्क के आता है तो उसे बाजार के लोग मास्क उपलब्ध कराएं।

केजरीवाल

इसे लेकर केजरीवाल ने बाजार के प्रतिनिधियों के साथ वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग से बातचीत की। व्यापारियों ने सरकार को हर संभव मदद का भी भरोसा दिया।

केजरीवाल ने व्यापारियों और बाजार प्रतिनिधियों से दुकानों पर पर्याप्त मात्रा में सैनिटाइजर, मुफ्त मास्क व सामाजिक दूरी का पालन कराने को भी कहा है। फिर भी बाजारों में भीड़ के चलते कोरोना संक्रमण सामने आने के बाद जिला प्रशासन अब बाजारों में दुकानों को कंटेनमेंट जोन बना रही है। पश्चिमी दिल्ली, दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली जिला प्रशासन ने बीते कुछ दिनों से जिस दुकान पर कोरोना पाॅजिटिव लोग मिल रहे हैं उस दुकान को बंद की गई हैं। जरूरत पड़ने पर उसके आस-पास की एक-दो दुकान को भी कंटेनमेंट जोन में बनाई जा सकते हैं। उनके क्लोज काॅन्टेक्ट यानी परिवार के लोगों को दुकान खोलने की भी अनुमति नहीं दी गई है।

केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के विधायकों, सांसदों, पार्षदों और स्वयंसेवकों के साथ सभी राजनीतिक दलों के लोगों से सार्वजनिक स्थानों पर जाकर जो लोग मास्क नहीं पहने मिलें, उनमें निःशुल्क मास्क बांटने की अपील की है। उन्होंने कहा कि यह सबसे बड़ी देशभक्ति और मानव सेवा है। इस सिलसिले में आप नेता प्रतिपक्ष ने लोगों के बीच मास्क वितरण किये। केजरीवाल ने कहा कि मैं सभी राजनीतिक दलों से भी अनुरोध करते हुए कहना चाहता हूं कि वे भी अपने कार्यकर्ताओं को सड़क पर उतारकर निशुल्क मास्क वितरित करने के लिए कहें। उन्होंने कहा कि संयुक्त प्रयास से हम कोरोना के संक्रमण को कम करेंगे।

यह भी पढ़ेंhttps://apnipatrika.com/chances-of-success-increased-in-the-direction-of-corona-vaccine/

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे।

Comments are closed.