सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना को लेकर केंद्र सरकार को भेजा नोटिस

नेहा राठौर

कोरोना की बढ़ती रफ्तार के बीच सुप्रीम कोर्ट ने देश में मौजूदा स्थिति पर खुद से संज्ञान लेते हुए केंद्र सरकार को नोटिस भेजा है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से ऑक्सीजन, जरूरी दवाओं की कमी और टीकाकरण के तरीकों से जुड़े मुद्दों पर राष्ट्रीय नीति को लेकर सवाल किये हैं। इस पर कोर्ट का कहना है कि कोविड से जुड़े मुद्दों पर छह अलग-अलग हाईकोर्ट का सुनवाई करना भ्रम पैदा कर सकता है।

यह भी पढ़ें  –  PRIVACY POLICY: दिल्ली हाईकोर्ट ने फेसबुक और व्हाट्सएप की याचिकाओं को किया खारिज

सुप्रीम कोर्ट ने कोविड-19 प्रबंधन पर खुद से संज्ञान मामले में वरिष्ठ अधिवक्ता हरीश साल्वे को न्याय मित्र नियुक्त किया है। कोर्ट अब शुक्रवार को इस मामले में सुनवाई करेगा। इसी के साथ कोर्ट ने कहा है कि वह कोविड-19 वैश्विक महामारी के बीच हाईकोर्ट की लॉकडाउन घोषित करने की न्यायिक शक्ति की भी जांच करेगा।

देश में पिछले 24 घंटों में 3,14,835 कोरोना संक्रमित केस सामने आए हैं, जो कि पिछले साल महामारी की शुरुआत के बाद से अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसे मिलाकर अब देश में कुल मामले 1 करोड़ 59 लाख 30 हजार 9 सौ 65 हो चुके हैं। बता दें कि 15 अप्रैल से लगातार देश में दो लाख से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। वहीं वायरस के कारण अब तक 2,104 लोगों की मौत हो चुकी है।  

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे ।

आप हमें Twitter , Facebook , और Instagram पर भी फॉलो कर सकते है।                      

Leave A Reply

Your email address will not be published.