Monday, May 27, 2024
Homeदेशसुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से कहा ‘हमें सख्त फैसला लेने पर मजबूर...

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से कहा ‘हमें सख्त फैसला लेने पर मजबूर ना करें’

नेहा राठौर

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी बढ़ती ही जा रही है। इस पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने एक बार फिर से कड़ा रुख अपनाया है। दरअसल, शुक्रवार को फिर से दिल्ली को 700 एमटी से कम ऑक्सीजन मिला है, इस पर सुप्रीम कोर्ट ने एक बार फिर से केंद्र सरकार को फटकार लगाई है और कहा है कि हमें सख्त फैसला लेने पर मजबूर ना करें।

सुनवाई के दौरान जस्टिस डीवाई चंद्रचूड ने कहा कि बीते दिन यानी गुरुवार को ही आपने आदालत में हलफनामा दिया था कि दिल्ली में 700 एमटी ऑक्सीजन की सप्लाई की गई है। कोर्ट ने कहा कि हम सपष्ट कर देना चाहते हैं कि दिल्ली को जरूरत के अनुसार हर दिन 700 एमटी ऑक्सीजन दिया जाना चाहिए, ना की सिर्फ एक दिन। हमें कोई भी सख्त फैसला लेने पर मजबूर ना करें।मामले में जस्टिस शाह ने कहा कि हमे कल ही साफ कहा था कि दिल्ली को अगले आदेश तक हर दिन 700 एमटी ऑक्सीजन दिया जाना चाहिए, इसके बाद जब कमेटी की रिपोर्ट आएगी उसके बाद हम देखेंगे।

दरअसल, शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में कर्नाटक के एक मामले पर सुनवाई हो रही थी। तभी दिल्ली सरकार के वकील राहुल मेहरा ने अदालत में दिल्ली में ऑक्सीजन की किल्लत का मामला उठाया। मेहरा ने कोर्ट में कहा कि दिल्ली को देर रात तक 527 एमटी ऑक्सीजन और सुबह आठ बजे 89 एमटी ऑक्सीजन मिला। बाकी के दिन में सिर्फ 16 एमटी ऑक्सीजन मिलने की ही संभावना है।

यह भी पढ़ें – सुगंधा मिश्रा और संकेत भोसले पर शादी में कोरोना नियमों के उल्लंघन को लेकर मामला दर्ज

बता दें कि दिल्ली में दिन पर दिन ऑक्सीजन की किल्लत बढ़ती ही जा रही है। सिर्फ गुरुवार को ही दिल्ली को पूरा 700 एमटी ऑक्सीजन मिला था। जिसके लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार का शुक्रिया भी अदा किया था और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गुजारिश की थी कि अब दिल्ली में ऑक्सीजन का कोटा कम ना किया जाए।

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे ।

आप हमें Twitter , Facebook , और Instagram पर भी फॉलो कर सकते है।   



RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments