त्यौहार में भी बाज़ारो की चमक फीकी

0 142

शिवानी मोरवाल

दिल्ली में बढ़ते कोरोना के साथ – साथ त्यौहारों की चमक भी फीकी पढ़ गई है.

जिस तरह से मार्च मे ही कोरोना को देखते हुए पूरे देश मे लॉकलाउन की घोषणा की गई थी उसके बाद से ही देश मे बड़े से लेकर छोटे ,अधिकतर सभी कामों पर रोक लग गई और हर साल की तरह इस साल भी अगस्त के महीनें से ही त्यौहारों ने अपनी दस्तक दे दी है पर इस बार कही ना कही हलचल सूनी और फिकी दिखाई पड़ रही है लेकिन जब अब लोगों के उमीदों का त्यौहार यानी दीपावली आने वाला है तब भी कोरोना का केहर दिखाई दे रहा है.

दुकानदारों की माने तो उनका कहना है कि इस बार की दिवाली हर साल की दिवाली से काफी अलग ,यानी सूनी और फिकी रहने वाली है क्योकि इस बार ना ही लोग घर से बाहर निकल रहे हैं और ना ही लोगो खरीददारी कर रहै है जिससे कही ना कही दुकानदारों की भी उम्मीद टूटती हुई दिख रही है.

और वही लोगो की माने तो उनका कहना है कि हमारी स्थिति लॉकडाउन के बाद इतनी खराब हो गई है कि त्यौहारों को मनाने की भी उम्मीद पूरी तरह से टूट चुकी है.

अब देखना यह होगा के इस बार की दिवाली हैप्पी होती है या कोरोना का केहर इस त्यौहार को भी सूना कर देगा 

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल “दिल्ली दर्पण टीवी” सब्सक्राइब करे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.