वन रक्षक ने फांसी लगाकर आत्महत्या की

पीटीआई-भाषा संवाददाता 

बांदा (उप्र), 23 नवंबर (भाषा) बांदा शहर कोतवाली क्षेत्र में कृषि विश्वविद्यालय से लगे जंगल में रविवार को एक वन रक्षक ने पेड़ पर फांसी लगाकर कथित रूप से आत्महत्या कर ली।

शहर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक (एसएचओ) दिनेश सिंह ने सोमवार को बताया “रविवार दोपहर कृषि विश्वविद्यालय परिसर से लगे जंगल में एक युवक का शव रस्सी के सहारे पेड़ की डाल पर फांसी के फंदे पर लटका पाया गया। मृतक की पहचान मनोज कुमार यादव (25) वन रक्षक के रूप में हुई है।”

उन्होंने बताया कि मूल रूप से कमासिन कस्बे का रहने वाला मनोज यहां शहर में बिजलीखेड़ा मुहल्ले में अपनी बहन की ससुराल में रहकर नौकरी करता था।

एसएचओ ने वन रक्षक के भाई बुद्धराज यादव के हवाले से बताया कि अभी उसकी नौकरी को एक साल ही बीता होगा। नवरात्रि में एक वन दारोग़ा के दबाव में उसकी शादी एक लड़की से तय कर दी गयी थी, जबकि मनोज वहां शादी नहीं करना चाहता था।

बुद्धराज ने पुलिस को बताया कि आत्महत्या करने से पूर्व उसके भाई मनोज ने आत्मघाती कदम उठाने की सूचना फोन पर उसे दी थी। जब तक वह मोटरसाइकिल से बांदा आकर अपने बहनोई के साथ उसे ढूंढ पाया, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

यह भी पढ़ें https://apnipatrika.com/banquet-hall-owner-in-delhi-are-upset-with-delhi-govt/

सिंह ने बताया कि इस सिलसिले में मृतक के भाई की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी है और पोस्टमॉर्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल “दिल्ली दर्पण टीवी” सब्सक्राइब करे।

Comments are closed.