जीत ली जिम्बाब्वे में सीरीज, पास हुए कप्तान ‌रहाणे

हरारे। भारत और जिम्बाब्वे के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज के दूसरे मुकाबले में आज दोनों टीमें आमने-सामने थीं। इस मैच में एक बार फिर से जिम्बाब्वे ने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी का न्योता दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने आठ विकेट के नुकसान पर 50 ओवर में 271 रन बनाए। जवाब में उतरी जिंबाब्वे की टीम 50 ओवर में 209 रनों पर सिमट गई और मैच 62 रनों से गंवा दिया। इसके साथ ही भारतीय टीम ने सीरीज में 2-0 से अजेय बढ़त बना ली है।

– भारतीय ओपनर्स की शानदार बल्लेबाजीः

जिम्बाब्वे के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत काफी अच्छी रही। पहले विकेट के लिए ओपनर रहाणे और मुरली विजय के बीच 112 रन की साझेदारी हुई। इस साझेदारी को चिभाभा ने तोड़ा। उन्होंने रहाणे को 63 रन पर सिकंदर रजा के हाथों कैच आउट करवा दिया। पिछले वनडे मैच में फ्लॉप रहे मुरली विजय ने इस मैच में समझदारी भरी पारी खेली। उन्होंने 95 गेंदों का सामना किया और 72 रन बनाए। उन्हें मदजीवा ने वॉलर के हाथों कैच करवाया। पहले वनडे मैच में शतक बनाने वाले रायडू ने इस मैच में 41 रन बनाए। उन्हें सिकंदर रजा ने वॉलर के हाथों कैच करवाया। मनोज तिवारी एक बार फिर फेल रहे। वो 22 रन बनाकर कैच आउट हुए।

इसके बाद मदजिवा ने उथप्पा को बोल्ड करके भारत को पांचवां झटका दिया। जबकि स्टुअर्ट बिन्नी धुआंधार 25 रन बनाकर आउट हो गए। सातवें विकेट के रूप में केदार जाधव 16 रन बनाकर आउट हुए जबकि पारी के अंतिम ओवर की पांचवीं गेंद पर अक्षर पटेल एक रन बनाकर मदजिवा की गेंद पर आउट हो गए। जिंबाब्वे की तरफ से मदजिवा ने सर्वाधिक चार विकेट हासिल किए। जबकि विटोरी, तिरिपानो, चिभाभा और सिकंदर रजा ने एक-एक विकेट हासिल किया।

– जिंबाब्वे का बल्लेबाजी क्रम लड़खड़ायाः

जिंबाब्वे को पहला झटका सिबांदा के रूप में लगा जिनको धवल कुलकर्णी ने पवेलियन का रास्ता दिखाया। वहीं, दूसरा विकेट भुवनेश्वर कुमार ने लिया। भुवी ने मसकाद्जा को विकेट के पीछे कराते हुए भारत को दूसरी सफलता दिलाई और अपने वनडे करियर का 50वां विकेट हासिल किया। तीसरा विकेट भी भुवनेश्वर ने लिया। उन्होंने एल्टन चिगुंबरा को रहाणे के हाथों कैच कराया। इसके बाद अक्षर पटेल ने चौथे विकेट के रूप में विलियम्स को बोल्ड किया। इसके बाद 32वें ओवर में जिंबाब्वे को दो झटके लगे। हरभजन के इस ओवर की पहली गेंद पर चिभाभा रन आउट हो गए जबकि पांचवीं गेंद पर भज्जी ने सिकंदर रजा को कीपर उथप्पा के हाथों कैच करा दिया।

इसके बाद सातवें विकेट के रूप में मुतुमबामी, आठवें विकेट के रूप में मदजिवा, नौवें विकेट के रूप में क्रीमर और अंतिम विकेट के रूप में तिरिपानो को 209 रन के अंदर आउट करके भारत ने 62 रनों से जीत दर्ज कर ली। भारतीय टीम की तरफ से भुवनेश्वर कुमार ने सर्वाधिक चार विकेट लिए जबकि धवल कुलकर्णी, हरभजन, बिन्नी और अक्षर पटेल ने एक-एक विकेट हासिल किया।


									

Comments are closed.