वाजे ने खोले देशमुख के राज़

नेहा राठौर

महाराष्ट्र के वसूली कांड में सचिन वाजे ने एक बड़ा खुलासा किया है। वाजे ने महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख पर आरोप लगाये हैं कि देशमुख ने उनकी बहाली के बदले में उनसे 2 करोड़ रुपये की रकम मांगी थी। इसी के साथ वाजे ने NIA को दिए लिखित बयान में यह भी आरोप लगाए हैं कि देशमुख ने उन्हें बताया था कि पवार उन्हें हटाना चाहते थे लेकिन वह उन्हें मना लेंगे। इसलिए उन्होंने पैसों की मांग की थी।

ये भी पढें – मुख्तार को लगी यूपी की हवा, बिगड़ी तबीयत हुई ठीक

बयान में वाजे ने यह भी बताया है कि जब उसने देशमुख से कहा कि वह इतना पैसा नहीं दे पाएंगे, तो उन्होंने यह रकम बाद में उसे देने को कहा था। वाजे ने पत्र में यह दावा किया है कि देशमुख ने उसे अक्टूबर 2020 में सहयाद्री गेस्ट हाउस पर बुलाया था जहां उन्होंने देशमुख ने वाजे से 1650 बार और रेस्त्रां से पैसे वसूलने की बात कही थी। इस पर वाजे ने कहा कि यह मेरी पहुंच से बाहर है।

उसके बाद वाजे को जुलाई-अगस्त 2020 के महीने में मंत्री अनिल पारब ने अपने आधिकारिक बंगले पर बुलाया। यह उस समय की बात है जब राज्य में पुलिस अधिकारियों के 3-4 दिन में आंतरिक तबादले किए जा रहे थे।  

वाजे ने बताया कि इस दौरान देशमुख ने उनसे एसबीयूटी के खिलाफ जो शिकायत मामला चल रहा था उसमें हस्तक्षेप करने के लिए कहा था, इसी के साथ उन्होंने एसबीयूटी के ट्रस्टीज़ को भी समझौते के लिए बुलाने के लिए कहा था। वाजे ने बताया कि देशमुख ने उससे एसबीयूटी से पचास करोड़ की मांग के साथ बातचीत करने के लिए कहा था। इस पर वाजे ने यह का दावा है कि उसने इस बात पर अपनी असमर्थता जताई थी और कहा था कि उसका इस मामले में कोई लेना देना नहीं है और न ही वह एसबीयूटी से संबंधित किसी भी शख्स को जानता है।

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे ।

आप हमें Twitter , Facebook , औरInstagram पर भी फॉलो कर सकते है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.