वसुंधरा राजे के बचाव में उतरी भाजपा और प्रदेश सरकार

जयपुर।   आईपीएल के पूर्व आयुक्त ललित मोदी प्रकरण को लेकर विवादों में फंसी मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के बचाव में प्रदेश भाजपा और राजस्थान सरकार पूरी तरह से उतर गयी और उन पर लगे सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है। संसदीय कार्य मंत्री राजेन्द्र राठौड ने आज कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर लगाये गये सभी आरोप बेबुनियाद हैं, पार्टी का राष्ट्रीय एवं प्रदेश नेतृत्व और विधायक दल मुख्यमंत्री के साथ खड़ा है। राठौड ने आज संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री पर आईपीएल के पूर्व आयुक्त ललित मोदी को लेकर लगाये जा रहे आरोप बेबुनियाद हैं। पूरी पार्टी और भाजपा विधायक दल के नेता मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के साथ खड़े हैं। राजे हमारा नेतृत्व कर रही हैं और करती रहेंगी। राठौड ने कहा कि हमारे पच्चीस लोकसभा सांसद इन सब बातों का समय पर जवाब देंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को इस बारे में जो कुछ कहना था पहले ही कह चुकी हैं वह सब रिकार्ड पर है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी ने अलग से मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने न तो पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मिलने के लिए समय मांगा और न ही उन्होंने समय देने से इंकार किया और तीस विधायक मुख्यमंत्री के समर्थन में दिल्ली गये यह सच्चाई से परे है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस बेवजह ही बेबुनियाद आरोप लगा रही है। इधर, राजस्थान प्रदेश युवक कांग्रेस, महिला प्रदेश कांग्रेस समेत कांग्रेस के अग्रिम संगठनों ने एक रैली निकालकर राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से इस्तीफा देने की मांग की। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट की अध्यक्षता में बुधवार को उदयपुर में सम्पन्न हुई प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में आईपीएल के पूर्व आयुक्त ललित मोदी का सहयोग देने के आरोप में वसुंधरा राजे से इस्तीफा देने का प्रस्ताव पारित कर चुकी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने वसुंधरा राजे से तुरंत अपने पद से त्यागपत्र देने की मांग की है।

 

Comments are closed.