Friday, April 12, 2024
HomeदेशSahara Protest : नागेंद्र कुशवाहा ने की मध्य प्रदेश विधानसभा के घेराव...

Sahara Protest : नागेंद्र कुशवाहा ने की मध्य प्रदेश विधानसभा के घेराव को सफल बनाने की अपील  

संयुक्त ऑल इंडिया जनांदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नागेंद्र कुशवाहा ने बताया है कि केंद्र और राज्य सरकार से सहारा समूह पर कार्यवाही कर जमाकर्ताओ का भुगतान कराने के लिए जमाकर्ता और कार्यकर्ता मध्यप्रदेश के भोपाल में 14 मार्च को बड़ा आंदोलन कर रहे हैं। इस दिन मध्य प्रदेश विधानसभा का घेराव किया जाएगा।


उन्होंने बताया कि देश भर के सभी जिला मुख्यालयों पर भी 14 मार्च को सुबह 10 से शाम 5 बजे तक ” एक दिवसीय अनशन” किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इसी क्रम में  झारखंड के सभी जिले में भी सहारा समूह से पीड़ित जमाकर्ताओं और संगठन के कार्यकर्ता जिला मुख्यालय पर भी सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक “अनशन” किया करेंगे। इसी बीच लगभग दोपहर 12 बजे सहारा समूह पर कार्यवाही करने सभी जमाकर्ताओ/कार्यकर्ताओ का पैसा वापस कराने को लेकर माननीय जिलाधिकारी महोदय को देश के माननीय प्रधानमंत्री महोदय के नाम ज्ञापन प्रेषित किया जाएगा,और शाम 5 बजे  अनशन समाप्त कर दिया जाएगा।
उन्होंने कहा है कि सभी जनपद के सभी सम्मानित नागरिकों से निवेदन है कि 14 मार्च सुबह 10 बजे जिला मुख्यालयों पर पहुंचकर “अनशन पर बैठे पीड़ितों का हौसला करें।
उन्होंने बताया कि यह आंदोलन ही सहारा समूह द्वारा ठगी गयी खून-पसीने की गाढ़ी कमाई को वापस करा सकता है। यह आंदोलन आर्थिक रूप से कमजोर  गरीब जमाकर्ता की बेटी की शादी करा सकता है। किसी गरीब जमाकर्ता की जान बचा सकता है। किसी गरीब जमाकर्ता को बर्बाद होने से बचा सकता है। किसी गरीब जमाकर्ता के बेटी-बेटियों की पढ़ाई पूरी करा सकता है। मानसिक तनाव में चल रहे किसी मजबूर अभिकर्ता को आत्महत्या करने से रोक सकता है।

सहारा इंडिया के साथ ही दूसरी ठगी कंपनियों के खिलाफ निवेशकों और जमाकर्ताओं ने पूरी तरह से मोर्चा खोल दिया है। एक ओर जहां ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा 14 मार्च को मध्य प्रदेश विधान सभा का घेराव करने जा रहा है। देशभर के सभी जिलाधिकारियों के कार्यालयों पर भूख हड़ताल करने जा रहा है। वहीं ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार 14 मार्च को ही देशभर के जिलाधिकारियों का घेराव करने जा रहा है। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष मदन लाल आज़ाद ने 23 मार्च को शहीदी दिवस पर  दिल्ली कर्तव्य पथ पर लाखों निवेशकों और जमाकर्ताओं को उतारने का ऐलान कर दिया है। अब निवेशकों की लड़ाई युद्धस्तर पर चल रही है। ऑल इंडिया जन संघर्ष न्याय मोर्चा मध्य प्रदेश के अध्यक्ष वीरेंद्र सोलंकी की अगुआई में 14 मार्च को विधानसभा का घेराव करने जा रहा है।  देशभर के सभी जिलाधिकारियों के कार्यालयों पर भूख हड़ताल का कार्यक्रम है। 
उन्होंने कहा कि लोकतांत्रिक शासन प्रणाली में भूख हड़ताल एक अहिंसक प्रतिरोध या दबाव की एक व्यवस्था है, जिसमें अपनी बातों को रखने के लिए राजनीतिक विरोध किया  जाता है।
उन्होंने कहा है कि निवेशकों और जमाकर्ताओं को सुब्रत राय के विरुद्ध एक संकल्प लेना होगा कि जिस रावण के चलते उनके बच्चों की शिक्षा कमजोर हो गई है। उनकी बेटियों की शादी नहीं हो पा रही है। माँ- बाप का इलाज नहीं हो पा रहा है। कितने कार्यकर्ता बीमार पड़ गए हैं। उन्होंने निवेशकों और जमाकर्ताओं से अपील की है कि 14 मार्च का भूख हड़ताल उनके लिए बहुत बड़ा हथियार है। इस कार्यक्रम पूरी तरह से सफल बनाना है।
उधर ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार ने भी 14 मार्च को ही बड्स एक्ट का उल्लंघन करने वाले जिलाधिकारियों का घेराव करने जा रहा है। 23 मार्च शहीदी दिवस पर दिल्ली कर्तव्य पथ पर 20 लाख से ऊपर निवेशक और जमाकर्ता जुट रहे हैं। संगठन के राष्ट्रीय संयोजक मदन लाल आज़ाद ने कहा है कि वे लोग कर्तव्य पथ से तभी उठेंगे जब सभी निवेशकों और जमाकर्ताओं का भुगतान हो जाएगा।  वैसे भी जहां 5,6,7 अगस्त को ऑल इंडिया जन संघर्ष न्याय मोर्चा तो 15 नवम्बर को ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार जंतर मंतर पर आंदोलन कर चुका है।
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments