Monday, July 22, 2024
HomeदेशSahara Protest : 14 मार्च के प्रोटेस्ट में टकरा सकते हैं ऑल...

Sahara Protest : 14 मार्च के प्रोटेस्ट में टकरा सकते हैं ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष मोर्चा और ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार

अपनी पत्रिका ब्यूरो   

14 मार्च के ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार के जिलाधिकारियों के कार्यालयों के घेराव के दिन ही ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा के जिलाधिकारियों के कार्यालयों पर धरना-प्रदर्शन कार्यक्रम रख देने से दोनों संगठनों के कार्यकर्ताओं में टकराव होने की आशंका व्यक्त की जा रही है। टकराव होने का बड़ा कारण यह है कि ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार के राष्ट्रीय संयोजक मदन लाल आजाद का आरोप है कि उनके घोषित कार्यक्रम के दिन ही ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा अपना कार्यक्रम रख लेता है। 14 मार्च के दिन ही ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा के कार्यक्रम घोषित होने से मदन लाल आजाद में बहुत नाराजगी देखी जा रही है। उधर भाषा को लेकर अभय देव शुक्ला भी मदन लाल आजाद पर खार खाए बैठे हैं।


यह संयोग है या फिर जानबूझकर बनाई गई रणनीति कि ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार के कार्यक्रम के दिन ही ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा का कार्यक्रम रख दिया जाता है। 15 नवम्बर को जब ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार यानी कि जप तप का पहली भारत यात्रा का समापन कार्यक्रम था तो उसी दिन ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष मोर्चा का सहारा इंडिया के जोनल कार्यालयों पर प्रोटेस्ट कार्यक्रम था। अब जब 14 मार्च को ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार का बड्स एक्ट का उल्लंघन करने वाले जिलाधिकारियों के कार्यालयों को घेरने का कार्यक्रम है तो ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष मोर्चा ने भी जिलाधिकारियों के कार्यालयों पर धरना-प्रदर्शन कार्यक्रम रख दिया है।
ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार के राष्ट्रीय संयोजक मदन लाल आजाद अपने ही कार्यक्रम के दिन ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष मोर्चा के कार्यक्रम रख देने को लेकर ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष मोर्चा पर खासे नाराज नजर आ रहे हैं। यही सबसे बड़ी वजह है कि ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार के राष्ट्रीय संयोजक मदन लाल आजाद और ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अभय देव शुक्ला के बीच 36 का आंकड़ा देखा जा रहा है। मदन लाल आजाद के अभय देव शुक्ला से खफा होने का एक कारण तो उनके बड्स एक्ट की आलोचना करना दूसरे उनके ही कार्यक्रम के दिन ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा का कार्यक्रम रखना रहा है।
हालांकि अभय देव शुक्ला अब बड्स एक्ट की महत्ता को तो समझने लगे हैं यह बात उन्होंने विभिन्न कार्यक्रमों में बोली भी है पर 14 मार्च को जब काफी समय पहले ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार ने बड्स एक्ट का उल्लंघन करने वाले देशभर के सभी जिलाधिकारियों के कार्यालयों के घेराव का कार्यक्रम रख दिया था तो उसी दिन जिलाधिकारियों के कार्यालयों पर ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष मोर्चा के कार्यक्रम रख देने से फिर से मदन लाल आजाद अभव देव शुक्ला पर खफा हो गये हैं। ऐसे में 14 मार्च को जिलाधिकारियों के कार्यालयों पर ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार के कार्यकर्ताओं का ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष न्याय मोर्चा के कार्यकर्ताओं का टकराव होने की आशंका पैदा हो गई है।


दरअसल मदन लाल आजाद की अगुआई में चल रहे ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष मोर्चा सहारा निवेशकों की लड़ाई लड़ रहा है तो मदन लाल आजाद सहारा इंडिया के साथ ही दूसरी ठगी कंपनियों पर्ल्स, बाइक बोट, हेलो टैक्सी, टाइपराइटर, राधा माधव, ब्लू फॉक्स, शाइन सिटी, फ्यूचर मेकर, कैपी पिक्सल, स्ट्रीट हॉक्स, कल्पतरु, साईं प्रसाद, हीरा गोल्ड, पिनकोन, रामेल, प्रयाग, हेलो गाइड, गो वे, गो बाइक, एनएनएम, एवरग्रीन, विश्वास ट्रेडिंग, कार सर्विस यात्रा, ग्लोबल स्टार, किसान एग्रो, विश्वामित्र, आदर्श, संजीवनी, नवजीवन, सर्वोदय, समृद्ध जीवन, लोकहित, जेकेपी, कल्पेश्वर, खेतेश्वर, कामधेनु के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं।
दरअसल मदन लाल आजाद का अभय देव शुक्ला पर आरोप है वह जो भी तारीख अपने कार्यक्रम की रखते हैं वही तारीख अभय देव शुक्ला अपने आंदोलन की रख देते हैं, जिसके चलते लड़ाई कमजोर होती है। ठगी कंपनियों को दोनों संगठनों का कार्यक्रम एक ही दिन होने से मदद मिलती है। 14 मार्च को उनके संगठन के दिन ही जिलाधिकारियों के कार्यालयों पर ऑल इंडिया जन आंदोलन संघर्ष मोर्चा के धरना-प्रदर्शन कार्यक्रम रखने से वह खासे नाराज नजर आ रहे हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments