डीजिटल इंडिया की ओर भारत का बढ़ता कदम, भुगतान के लिए ई-रुपी की होगी शुरुआत

नेहा राठौर

आज यानी सोमवार का दिन देशवासियों के लिए बड़े गर्व का दिन होने वाला है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए डिजिटल भुगतान के लिए ई-रुपी की शुरुआत करेंगे। यह देश का विकास की ओर बढ़ता एक नया कदम साबित होगा। इस की जानकारी खुद पीएम ने दी है। उन्होंने कहा ई-रुपी डिजिटल भुगतान के लिए एक कैशलेस और संपर्क रहित माध्यम है। जानिए क्या है यह ई-रुपी।

इसकी जानकारी देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि पिछले साल के दौरान इच्छित लाभार्थियों तक लाभ पहुंचाना के लिए कई कार्यक्रम शुरू किए गए थे, ताकि सरकार और लाभार्थी के बीच सीमित संपर्क हो सके। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक वाउचर की यह अवधारणा सुशासन के इस दृष्टिकोण को आगे ले जाएगी।

यह भी पढ़ें- जहांगीरपुरी क्षेत्र हुआ जलमग्न तो पानी में धरने पर बैठी निगम पार्षद

आखिर e-rupi है क्या

ई-रुपी डिजिटल भुगतान के लिए एक कैशलेस माध्यम है। एक तरह से यह एक क्यूआर कोड या कह सकते हैं कि एसएमएस स्ट्रिंग-आधारित ई-वाउचर है। जिसे लाभार्थियों के फोन पर पुहंचाया जाता है। उपभोक्ता इसे अपने सेवा प्रदाता के केंद्र पर कार्ड, डिजिटल भुगतान एप या इंटरनेट बैंकिग एक्सेस के बिना ही वाउचर की राशि को प्राप्त कर सकता है। इसे नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया(NPCI) ने अपने UPI प्लेटफॉर्म पर वित्तीय सेवा विभाग, स्वास्थ्य, परिवार कल्याण मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के सहयोग से विकसित किया है।

देश और दुनिया की तमाम खबरों के लिए हमारा यूटयूब चैनल दिल्ली दपर्ण टीवी (DELHI DARPAN TV) सब्सक्राइब करें।

आप हमें FACEBOOK,TWITTER और INSTAGRAM पर भी फॉलो पर सकते हैं।

Comments are closed.