जहांगीरपुरी क्षेत्र हुआ जलमग्न, तो पानी में धरने पर बैठी निगम पार्षद

ब्युरो, अपनी पत्रिका

दिल्ली के जहांगीरपुरी में बारिश के मौसम में जलजमाव की समस्या हर बार आती है लेकिन इस बार जब जहाँगीरपुरी मेन रोड पर बारिश के कारण घुटनों भर पानी भरा तो क्षेत्र के वार्ड 21 से निगम पार्षद पूनम बागड़ी अपने समर्थकों के साथ सड़क पर ही कुर्सियाँ लगा कर बैठ गई। पूनम बागड़ी का कहना है कि 2017 में निगम पार्षद चुने जाने के बाद से ही क्षेत्र में नालों की सफाई का मुद्दा उन्होंने केजरीवाल सरकार के सामने उठाया।

उन्हें ज्ञापन भी दिये लेकिन इसके बावजूद नालों की सफाई नहीं की जाती। जिसके कारण जलनिकासी ठीक से नहीं हो पाती है। क्षेत्र की जनता को कोरोना महामारी के बीच गंदे पानी के कारण एक और महामारी पनपने का खतरा सामने दिखता है। लिहाजा उनके दर्द को समझते हुए पार्षद अपनी टीम के साथ जलमग्न सड़क पर बैठ गई।

कांग्रेस नेता अश्विनी बागड़ी ने कहा कि जब दिल्ली में शीला दीक्षित की सरकार थी तब मात्र 28 हजार करोड़ का बजट होता था, लेकिन उस समय भी दिल्ली में चारो तरफ सड़कों, गलियों और नालियों का निर्माण दिखता था। आज केजरीवाल सरकार का बजट भी कई गुना बढ़ चुका है और टैक्स वसूली भी बढ़ी, लेकिन विकास कार्यों के मामले में ये फिसड्डी साबित हुए हैं। यदि जलनिकासी की व्यवस्था उचित समय पर हो जाती तो आज दिल्ली की सड़कें तालाब नहीं बनी होती।
पूनम बागड़ी ने कहा है कि जब भी बारिश होगी और जहाँगीरपुरी की सड़कों पर जलजमाव होगा, वह इसी तरह से सड़क पर पानी के बीच बैठ अपना विरोध जताएँगी।

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे ।

आप हमें  Twitter , Facebook , और Instagram पर भी फॉलो कर सकते है।  

Comments are closed.