Friday, April 12, 2024
Homeअपनी पत्रिका संग्रहलात घूसे और थप्पड़, बस इतनी सी कहानी है एमसीडी की

लात घूसे और थप्पड़, बस इतनी सी कहानी है एमसीडी की

नई दिल्ली, 25 फरवरी। दो दिन के हंगामे और सस्पेंस के बीच आखिरकार दिल्ली नगर निगम की स्टैंडिंग कमेटी का चुनाव भी हुआ और मतगणना भी हो गयी लेकिन महज के वोट ने सदन को गुंडागर्दी का अखाड़ा बना दिया। दोनों पक्षों की और से मारपीट ऐसी हुयी जैसे महोल्ले के गुण्डे आपस में लड़ रहे हो। क्या पुरुष पार्षद और क्या महिला पार्षद बीजेपी और आम आदमी पार्टी दोनों की ही पार्षद  मारपीट और धक्का मुक्की में शामिल हुए और आखिर कार सदन को फिर दो दिन के लिए स्थगित करना पड़ा इस बीच बीजेपी और आम आदमी पार्टी दोनों ने ही एक दूसरे के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज़ कराई है। हम आपको बताते है की अब आगे क्यों होगा ? इसमें पुलिस आगे क्या करवाई कर सकती है ? आखिरकार इस समस्या का समाधान क्या है ?

सुबह 11 बजे स्थाई समिति के 6 सदस्यों के लिए चुनाव हुआ। शुरुआत हंगामे के बाद दोनों दलों ने चुनाव प्रक्रिया में भाग लिया लेकिन चुनाव के बाद जब बारी मतगणना की आयी तो हंगामा हो गया। मतगणना से पहले ही आप नेता सौरभ भारद्वाज ने यह कहकर सनसनी फैला दी की बीजेपी के 5 पार्षदों ने आप के पक्ष में क्रॉस वोटिंग की है। इस वाद विवाद के बीच जब बारी मतगणना की आयी तो मेयर शैली ओबेरॉय ने एक वोट इनवैलिड बता दिया। बाद फिर क्या था बीजेपी ने इस पर हंगामा शुरू कर दिया। सदन कुछ देर के लिए स्थगित भी हुआ शैली ओबेरॉय ने दुबारा काउंटिंग करने का प्रस्ताव रखा लेकिन बीजेपी ने उसे ठुकरा दिया। उसके बाद फिर क्या था एमसीडी में जो कुछ हुआ वह पुरे देश ने देखा। देखा की किस तरह उनके चुने हुए नेता गली के गुंडों की तरह लड़ रहे है। पुरे देश ने उसे बेहद शर्मनाक बताया। लेकिन इन नेताओं को शर्म नहीं आती। आम आदमी पार्टी और बीजेपी इस हंगामे के लिए दोनों ही एक दूसरे को जिम्मेदार मान रहे है। दोनों की तरफ से पुलिस थाने में शिकायत भी दर्ज़ की गयी है। क्या है दोनों के आरोप एक नजर ज़रा इस पर भी डालिये। सदन में हंगामे के बाद बीजेपी नेताओं ने क्या कुछ कहा ज़रा यह भी सुन लीजिये। आम आदमी पार्टी ने भी बीजेपी पर आरोप लगाया की उसके गुंडों ने मेयर शैली ओबेरॉय पर जानलेवा हमला किया। आम आदमी पार्टी ने कमला मार्किट थाने में बीजेपी के खिलाफ शिकायत दर्ज़ कराई है। आप पार्षदों के साथ आप नेता दुर्गेश पाठक भी थाने पहुंचे।

अब सवाल है की आगे क्या होगा। इस पर चर्चा करें इससे पहले यह बता दें की आज क्या हो रहा है। बीजेपी ने आप के खिलाफ शिकयत दर्ज़ करने के बाद इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटा जा रही है। वहीँ आप की मेयर शैली ओबेरॉय पुलिस आयुक्त से मिलकर इस मामले में करवाई करने की बात कह रही है। शैली ओबेरॉय ने पुलिस आयुक्त से आज मिलाने का समय माँगा है। पुलिस में दोनों पक्षों की और से शिकायत दी जा चुकी है पुलिस ने दोनों पक्षों की और से शिकायत ले ली है लेकिन दोनों तरफ से जो आरोप लगे है वे भी कम शर्मनाक नहीं है। अब पुलिस के सामने इन आरोपों की  जांच करने की चुनौती है। मामला इतना बड़ा और गभीर है की पुलिस को इस पर करवाई करनी ही होगी।  ऐसे में सवाल है की पलिस इस जांच को कैसे आग बढ़ाएगी। पुलिस दोनों पक्षों की शिकायत और आरोपों पर बयान लेगी लेकिन इससे पहले वह सीसीटीवी फुटेज जमा कर रही है और इसके साथ ही मीडिया और सोशल मीडिया के साथ मोबाइल से बनाई हुयी वीडिओ भी लेगी और उसके आधार पर जांच करेगी। अब चूँकि आरोप दोनों तरफ है तो दो -दो शिकायतें है ऐसे में सभव है पुलिस एक ही मामला दर्ज़ कर मामले की जांच आगे बढ़ाये।

बहरहाल मामला कोर्ट और पुलिस थाने तक पहुंच चुका है। इस बीच मेयर ने 27 फरवरी स्टैंडिंग कमेटी के चुनाव की तारीख दे दी है। इन दो दिनों के बीच पुलिस अपनी जांच प्रक्रिया शुरू कर रही है और इस बीच बीजेपी यदि कोर्ट जाती है तो कोर्ट में क्या रुख रहता है यह भी सामने आ जाएगा।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments