कोरोना के दौर में श्री सोसाइटी बवाना बनी लोगों की सहायक

नेहा राठौर

कोरोना महामारी की दूसरी लहर में सबसे ज्यादा कमी ऑक्सीजन सिलेंडर की हो रही है। ऐसे में कई संस्थाएं सामूहिक प्रयासों से लोगों तक यह प्राण वायु पहुंचने का काम कर रही है, लेकिन उन्हें भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

इस पर ऑक्सीजन सिलेंडर पहुंचाने में लगी श्री सुखमनी सोसाइटी बवाना के प्रमुख पदाधिकारियों का कहना है कि जो लोग उनसे सिलेंडर लेकर गए वे वापस नहीं लौटा रहे हैं। जिस कारण सिलेंडरों की कमी हो रही है। उन्होंने कहा कि डर का माहौल इतना है कि बिना जरूरत के भी वे ऑक्सीजन सिलेंडर अपने पास रखे हुए है।

यह भी पढ़ेंमहाराष्ट्र के स्थापना दिवस पर कोरोना का पहरा

बता दें कि श्री सुखमनी सोसाइटी  बवाना ने कोरोना की पहली लहर के शुरू होने पर इंडस्ट्रियल एरिया में फ्री मास्क, सैनेटाइजर और स्प्रे मशीन वितरित की ताकि कारोबारी और कमर्चारी इससे बच सकें। वहीं, अब जब कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी तो उन्होंने लोगों तक प्राण वायु भी फ्री में पहुंचने की मुहीम शुरू की। गौरतलब है कि सोसाइटी ने दिल्ली के आठ पॉइंट पर करीब तीन दर्जन सिलेंडर के साथ लोगों को ऑक्सीजन पहुंचने की सेवा शुरू की है जिनमें सिर्फ  ऑक्सीजन ही नहीं बल्कि भाप मशीन, ऑक्सीजन सिलेंडर किट आदि भी शामिल है।

इस पर श्री सोसाइटी बवाना प्रधान का कहना है कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर में जरूरतमंद लोगों तक यह प्राण वायु पहुंचाना सचमुच आज की सबसे बड़ी जरूरत है। उन्होंन बताया कि सोसाइटी की इस सेवा में लोगों ने खूब बढ़चढ़कर सहयोग दिया है। वहीं सोसाइटी ने शायद कभी सोचा भी नहीं होगा कि कोरोना से डरे लोग स्वार्थी हो जायेंगे। सोसाइटी ने जिस जिस को सिलेंडर दिए उनमें से ज्यादातर वापस नहीं आए। जिस कारण सोसाइटी की सेवा में ब्रेक लग गया। ऐसे में सोसाइटी ने लोगों से अपील की है कि अगर उन्हें फिलहाल सिलेंडर की जरूरत नहीं है तो सिलेंडर वापस कर दें ताकि किसी और की जान बचाई जा सके।

बता दें कि कोरोना के इस दौर में ऑक्सीजन सिलेंडर का काफी मारा मारी है ऐसे में लोग अपने स्वार्थ के लिए कालाबाजारी पर उतर आए हैं। स्वास्थ्य से जुड़ी जरूरी चीजों को ब्लैक में दोगुने दामों पर बाजार में बेच रहे हैं। 

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे ।

आप हमें Twitter , Facebook , और Instagram पर भी फॉलो कर सकते है।   

Leave A Reply

Your email address will not be published.