चीन दौरा नया मील का पत्थर: मोदी

नई दिल्ली।  सीमा मुद्दे और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में चीन की आधारभूत परियोजनाओं जैसे परेशान करने वाले मुद्दों के बीच चीन की अपनी तीन दिवसीय यात्रा पर जा रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए गुरुवार को चीनी नेतृत्व से मुलाकात कठिन चुनौती होगी हालांकि, उन्होंने उम्मीद जतायी है कि यह एशिया के लिए ‘नया मील का पत्थर’ साबित होगा। प्रधानमंत्री के तौर पर चीन की अपनी पहली यात्रा पर जा रहे मोदी एक शिखर सम्मेलन के लिए सामान्य प्रोटोकॉल से हटकर एक असाधारण कदम के तहत गुरुवार को राष्ट्रपति शी जिनपिंग के गृह शहर, प्राचीन शहर जियान पहुंचेंगे। पिछले साल सितंबर में भारत दौरे के दौरान मोदी ने भी चीनी नेता का अहमदाबाद में स्वागत किया था। अपने दौरे के पहले प्रधानमंत्री ने चीनी मीडिया से कहा, ‘‘मैं चीन के अपने दौरे के लिए आशान्वित हूं..21 वीं सदी एशिया की है।’’ हिंदी में बोलते हुए प्रधानमंत्री ने उम्मीद जताई कि उनके दौरे से भारत-चीन का संबंध ‘आगे अधिक प्रगाढ़’ होगा और एशिया तथा विकासशील देशों के लिए ‘नया मील का पत्थर’ साबित होगा।

 

Comments are closed.