Friday, April 19, 2024
HomeअपराधAtique Ahmed : इटली की बनी बेरेटा पिस्टल का पाकिस्तानी कनेक्शन, क्या...

Atique Ahmed : इटली की बनी बेरेटा पिस्टल का पाकिस्तानी कनेक्शन, क्या है इसकी खासियत? माफिया अतीक को कैसे मिली?

प्रयागराज। उमेश पाल हत्याकांड में माफिया अतीक अहमद का नाम जुड़ जाने मात्र से यह उसकी मौत का कारण बन गया। उमेश की हत्या में इस्तेमाल हथियारों की बरामदगी में एक पिस्टल का नाम भी सामने आया है, जिसका नाम है बेरेटा पिस्टल। यह बंदूक इटली में बनती है, लेकिन भारत में इसे तस्करी के माध्यम से लाई जाती है। अब सवाल यह उठता है कि जो बंदूक भारत में तस्करी के जरिए लाया जाता है, वह माफिया अतीक के पास कैसे पहुंची? और इसकी खासियत क्या है?

 

दरअसल, जिस दिन अतीक और अशरफ की हत्या हुई, उसी दिन घटना के कुछ घंटों पहले ही कसारी मसारी के एक खंडहरनुमा घर में पाकिस्तानी कारतूस, कोल्ट पिस्टल और एक देशी पिस्टल बरामद की गई थी। यह बरामदगी अतीक और अशरफ की निशानदेही पर हुई। बरामदगी के कुछ घंटों बाद ही अतीक की हालत बिगड़ी तो उसे कॉल्विन अस्पताल ले जाया गया, जहां से लौटते समय दोनों की हत्या कर दी गई।

पिस्टल का राज अतीक के साथ दफन

पुलिस सूत्रों को कहना है कि अतीक अहमद की हत्या न हुई होती तो अतीक बेरेटा पिस्टल को उस तक पहुंचाने वाले का ठिकाना बता सकता था और वह पिस्टल भी बरामद की जा सकती थी, लेकिन यह अब राज भी अतीक के साथ ही दफन हो गया।

अतीक ने पिस्टल के लिए दिए थे 40 लाख रुपये

पुलिस के मुताबिक, अतीक ने रिमांड के दौरान पूछताछ में बताया था कि उमेश की हत्या करवाने के लिए उसने बेरेटा पिस्टल मंगवाई थी, जिसके लिए उसने 40 लाख रुपये चुकाए थे। बेरेटा पिस्टल इटली की एक बड़ी हथियार कंपनी बनाती है, जिसे भारत में लाने के लिए तस्करों का सहारा लेना पड़ता है।

हालांकि, उमेश हत्याकांड में बेरेटा पिस्टल का इस्तेमाल हुआ था या नहीं, यह अभी स्पष्ट नहीं हो सका है, लेकिन अतीक-अशरफ की हत्या से पहले हुई छानबीन में यह तो पता चल गया था कि बेरेटा पिस्टल, पाकिस्तानी कारतूस और उमेश पाल हत्याकांड का कनेक्शन सीधा माफिया अतीक से जुड़ा है।

पाकिस्तानी कारतूस के तस्कर से मंगवाई थी पिस्टल

पुलिस के मुताबिक, रिमांड के दूसरे दिन अतीक ने यह बताया था कि उसने पिस्टल एक तस्कर के जरिए मंगाई थी, जिसके बारे में वह पता लगाकर पिस्टल बरामद करवा सकता है। यही तस्कर उसे पाकिस्तानी कारतूस भी उपलब्ध करवाता था।

अतीक का पाकिस्तानी कनेक्शन

गौरतलब है कि उमेश पाल हत्याकांड मामले में कोर्ट में दाखिल चार्जशीट में भी अतीक ने अपने पाकिस्तानी संबंधों का जिक्र किया था। चार्जशीट में बताया गया कि उमेश ने पूछताछ के दौरान बताया था कि उसे हथियारों की कमी नहीं है। हथियारों की सप्लाई के लिए लश्कर-ए-तैयबा जैसे संगठनों से संबंध रखता है।

बेरेटा पिस्टल की खासियत क्या है?

 

बेरेटा पिस्टल एक सेमी ऑटोमेटिक बंदूक है।
हर फायर के बाद यह अगली गोली खुद लोड कर लेती है।
इसकी मारक क्षमता 100 मीटर होती है।
50 मीटर दूरी पर यह इंसान की जान ले सकती है।
इससे एक बार में 17 गोली चलाई जा सकती है।
इसका वजन एक किलोग्राम से कम होता है।
यह एक शार्ट रिकॉइल बंदूक होती है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments