पाक में रची गयी मुंबई हमले की साजिश : तारिक खोसा

इस्लामाबाद मुंबई हमले की जांच का नेतृत्व करने वाले पाकिस्तानी जांच एजेंसी के पूर्व प्रमुख ने सरकार से इस मामले में अपनी ‘‘गलतियां’’ स्वीकारने के लिए कहते हुए माना कि 26/11 हमले की साजिश पाकिस्तान में रची गई और इसका अभियान पाकिस्तान से चलाया गया था और इसके लिए लश्कर ए तैयबा के आतंकवादियों को सिंध प्रांत में प्रशिक्षण मिला था। ‘डान’ अखबार के लिए लिखे अपने लेख में वर्ष 2008 के हमले में 166 लोगों के मारे जाने के कुछ हफ्तों बाद संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के प्रमुख बनाए गए तारिक खोसा ने कहा, ‘‘पाकिस्तान को मुंबई हमले से निपटना होगा जिसकी साजिश उसकी जमीन पर रची गई और अभियान भी यहीं से चलाया गया। इसके लिए सच का सामना करने और गलतियां स्वीकारने की जरूरत है।’’

उन्होंने मांग की कि पाकिस्तान की सरकारी सुरक्षा मशीनरी को सुनिश्चित करना चाहिए कि ‘‘घातक आतंकी हमलों’’ के हमलावरों और साजिशकर्ताओं को सजा मिले। खोसा ने कहा कि यह मामला लंबे समय से अटका हुआ है और प्रतिवादियों द्वारा देर करने की नीति, सुनवाई करने वाले न्यायाधीश का बार बार बदलना, मामले के अभियोजक की हत्या और कुछ अहम गवाहों द्वारा वास्तविक गवाही से पलटना अभियोजकों के लिए गंभीर झटके हैं। इस मुद्दे पर कुछ मामलों में पाकिस्तान के रूख के विपरीत स्वीकारोक्ति में खोसा ने अपने लेख में मुंबई हमला मामले के तथ्य रखे।

 

Comments are closed.