Sunday, July 21, 2024
Homeराजनीतिकर्नाटक में गुरुवार को हो सकता सीएम पद का शपथ, डीके शिवकुमार...

कर्नाटक में गुरुवार को हो सकता सीएम पद का शपथ, डीके शिवकुमार या सिद्धारमैया में किसका पलड़ा है भारी?

Karnataka Government Formation: कर्नाटक का अगला मुख्यमंत्री कौन बनेगा, इस पर सस्पेंस बरकरार है. कर्नाटक में सीएम पद का शपथग्रहण गुरुवार (18 मई) को हो सकता है. पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया (Siddaramaiah) और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार (DK Shivakumar) मुख्यमंत्री पद की रेस में सबसे आगे हैं. कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि सिद्धारमैया का पलड़ा भारी है.

 

माना जा रहा कि सिद्धारमैया को ही ज्यादातर विधायकों ने समर्थन दिया होगा, लेकिन अगर डीके शिवकुमार को ज्यादा समर्थन मिला होगा तो फिर फैसला उनके हक में जा सकता है. कांग्रेस सूत्रों के अनुसार, पार्टी नेतृत्व सोच रहा है कि मुख्यमंत्री के नाम की घोषणा आज या कल तक करके गुरुवार को शपथ करा दिया जाए. अभी तक की सोच के मुताबिक एक मुख्यमंत्री और एक ही उपमुख्यमंत्री के साथ 24-25 मंत्रियों को भी साथ में ही शपथ दिला दी जाए.

सिद्धारमैया को सीएम नहीं बनाने पर पड़ सकती है फूट

सूत्रों के मुताबिक डीके शिवकुमार के साथ कई और मसले हैं जिन्हें ध्यान में रखना पड़ रहा है. मुख्यमंत्री को किसी भी तरह के आरोपों से क्लीन होना चाहिए. सूत्रों का कहना है कि डीके शिवकुमार को मुख्यमंत्री नहीं बनाया जाता है तो भी पार्टी में फूट की गुंजाइश नहीं है, लेकिन सिद्धारमैया को नहीं बनाने से पार्टी में बड़ी नाराजगी जरूर देखने को मिल सकती है.

दिल्ली के लिए रवाना हुए सिद्धारमैया

कांग्रेस की ओर से नियुक्त तीन पर्यवेक्षक नवनिर्वाचित विधायकों से अलग-अलग बात कर सोमवार को दिल्ली लौट आए. वे पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को रिपोर्ट सौंपेंगे. सिद्धारमैया दिल्ली के लिए रवाना हो गए, वहीं दूसरी ओर शिवकुमार का कहना है कि उन्हें दिल्ली आने का फोन नहीं आया है. नवनिर्वाचित विधायकों ने रविवार को सीएलपी की बैठक के दौरान अगले मुख्यमंत्री चुनने का फैसला मल्लिकार्जुन खरगे पर छोड़ दिया था.

दिल्ली पहुंचने पर कर्नाटक के कांग्रेस प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि कल बैठक में दो प्रस्ताव पारित किए गए. एक धन्यवाद प्रस्ताव था और दूसरे प्रस्ताव से कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को अधिकृत किया गया कि वो अगले कांग्रेस विधायक दल के अगले नेता का चयन करें. पर्यवेक्षकों ने सभी से चर्चा की और वो अपनी रिपोर्ट आज रात तक मल्लिकार्जुन खरगे को देंगे.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments