दिल्ली में दरिंदगी की हद, ढाई साल की बच्ची से रेप

पत्रिका संवाददाता, केशवपंरम। देश की राजधानी दिल्ली में महिलायें तो दूर की बात मासूम बच्चियां भी सं½द्घरक्षित नहीं है। एक सप्ताह में तीन बच्चियों से दरिंदगी हो चं½द्घकी है। नार्थ वेस्ट के केशवपं½द्घरम और वेस्ट दिल्ली के रनहौला में दिल दहलाने वाली घटना इसी बात का सबूत है। बीती रात रामलीला से मात्र ढाई साल की बच्ची को उठाकर किडनैपर नें बच्ची को अगवा किया और उसके साथ गैंग रेप किया। इस लहू लं½द्घहान बच्ची के कई टाँके आये हैं। अभी तक आरोपियों की शिनाख्त तक नहीं हो पाई। ऐसी ही दर्दनाक घटना केशवपं½द्घरम थाना एरिया में घटी थी जहाँ आरोपी को पं½द्घलिस ने पकड़ तो लिया पर जो हैवानियत उस केश में हं½द्घई वो भी सबको दहला देने वाला मामला है। अब दिल्ली में लोग अपनी बच्चियों को लेकर खाफी चिंता में है।
लोग नवरात्रे के पर्व में कन्या पूजन में लगे है। पर कं½द्घछ राक्षस इस दौरान दूधमं½द्घहि बच्चियों को भी नहीं बख्स रहे। दिल्ली के नांगलोई थाना इलाके के शिव राम पार्क कॉलोनी है। पूरी कॉलोनी जमा है और गं½द्घस्से में है क्योंकि यहाँ बीती एक रामलीला का आयोजन हो रहा था। रात ग्यारह बजे का वक्त था और अचानक दो मिनट के लिए लाइट गई। इसी दौरान एक मात्र ढाई साल की दूध मं½द्घहि बच्ची दूध पीकर घर के बाहर निकली थी जो रामलीला के बगल में बना घर था। रामलीला घर के आगे ही हो रही थी। तभी एक बाइक पर सवार दो लड़के बच्ची को उठाकर भाग गए । लोगो ने बाइकर्स को भागते देखा। मामला समझकर पीछा करने की कोशिश भी की तब तक बाइकर्स गायब थे। पं½द्घलिस को तं½द्घरन्त सूचना दी। पूरी कॉलोनी जमा हो गई और बच्ची की तलास में निकल पड़ी । पं½द्घलिस को छोड़कर सभी बच्ची को तलास रहे थे। तीन घण्टे लोग खं½द्घद तलासते रहे तभी कं½द्घछ दूर एक पार्क में बच्ची पड़ी मिली। बच्ची बेहोश थी, गं½द्घप्तांगो से खून बह रहा था। साफ़ था दोनों दरिंदो ने बच्ची से गैंग रेप किया। तं½द्घरन्त बच्ची को उठाकर पं½द्घलिस को इतला दी गई। बच्ची संजय गांधीं अस्पताल में भर्ती है जहाँ दिल्ली के मं½द्घख्यमंत्री और महिला आयोग की अध्यक्ष भी मिलने पहं½द्घंचे।
वही इसी महीने नौ अक्टूबर को केशवपं½द्घरम में भी चार साल की बच्ची से भी किडनेप कर रेप हं½द्घआ था। घटना नार्थ वेस्ट दिल्ली के केशव पं½द्घरम इलाके की है जहाँ करीब साढ़े छ बजे चार साल की बच्ची पास में ही पानी की केन देखने गयी और गायब हो गयी। मिली तो इन झाडिय़ों में खून से लथपथ शौच के लिए गयी महिला ने इस बच्ची को देखा और शोर मचाया तो पता चला। बच्ची को घायल हालत में भगवान महावीर अस्पताल ले गया जहाँ से उसकी नाजं½द्घक हालत को देखते हं ए सफदरजंग अस्पताल में भेज दिया। घटना शाम साढ़े छ बजे की थी। बच्ची जब साढ़े आठ बजे तक भी नहीं पहं½द्घंची तो परिजनों ने तलास शं½द्घरू की। बच्ची घर के पास अक्सर खेला करती थी। इस बीच एक महिला ने घर के नजदीक रेलवे लाईन पर शौच के लिए गयी तो उसने बच्ची को खून से लथपथ देखा और मचाया। परिवजनों को शक है की कं½द्घछ लड़कों ने उसे घर के पास से उठाया और रेप किया। बाद में पं½द्घलिस ने आरोपी को दबोचा जो पास का ही एक नशेड़ी निकला। इन दोनों घटनाओ में पहले बच्चियों को अगवा किया गया फिर बेरहमी से रेप कर मासूम बच्चियों को अधमरा कर दिया लोग ये सोचकर सहम जाते है की जिस वक्त नन्ही बच्चियों से दरिंदगी हं½द्घई तब उपर क्या बीती होगी ये सं½द्घनकर रूह काँप जाए।

Comments are closed.