Monday, May 27, 2024
Homeस्वास्थ्यFirozabad : क्षय रोग विभाग ने राज्य में पाया दूसरा स्थान

Firozabad : क्षय रोग विभाग ने राज्य में पाया दूसरा स्थान

फिरोजाबाद  । वर्ष 2025 तक देश को क्षय रोग से मुक्ति दिलाने के लिए विभाग लगातार प्रयासरत है। जनपद में क्षय रोग विभाग द्वारा बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करने का प्रयास सफल हो रहा है। इन्हीं प्रयासों का परिणाम है कि क्षय रोग विभाग को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिलेवार हुई रैंकिंग में दूसरा स्थान मिला है, जबकि प्रथम स्थान बिजनौर जिले को मिला है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नरेंद्र सिंह ने क्षय रोग विभाग को बधाई देते हुए कहा कि रोगियों के प्रति सहानुभूति और सम्मान देने के साथ ही पोषण की व्यवस्था कराना बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा संभावित रोगियों की जांच आदि करा कर शीघ्र उपचार मुहैया कराना ही सफल कार्य का नतीजा है। जन समुदाय में टीबी के प्रति जागरूकता पैदा करना, दूरस्थ क्षेत्रों में मरीजों तक विभाग की पहुंच से ही क्षय रोग मुक्त समाज की स्थापना संभव है।
जिला क्षयरोग अधिकारी डॉ बृजमोहन का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिलेवार मार्च में हुई रैंकिंग में जनपद को दूसरा स्थान मिलना यह दर्शाता है कि क्षय रोग विभाग रोगियों के प्रति बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने को तत्पर है। उन्होंने बताया टीबी मरीजों को नोटिफिकेशन, डीबीटी के माध्यम से भुगतान कराना, यूडीएसटी, एचआईवी, शुगर तथा टीबी की जांच कराना, एमडीआर रोगियों की विशेष जांच व उपचार तथा शासन द्वारा प्रदत्त बजट को विविध कार्यक्रमों तथा मरीजों को निक्षय पोषण योजना के लिए राशि देने के साथ मरीजों का निक्षय पोर्टल पर समय से अपडेशन आदि पर की गई नंबरिंग के आधार पर जनपद को दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है।
डीपीपीसीएम मनीष यादव का कहना है कि क्षय रोग के प्रति जन समुदाय में जागरूकता पैदा करना और क्षयरोगियों के उपचार व रोकथाम आदि कार्य विभाग द्वारा सफलता पूर्ण किये जा रहे हैं।
मनीष यादव ने बताया कि जनपद में टीबी रोगियों के लिए 25 जांच केंद्र हैं- मेडिकल कॉलेज में दो सीबी नाट मशीन हैं और छह ट्रूनाट मशीन हैं। सन 2019 से अब तक 320 निक्षय मित्रों ने 3908 मरीजों को गोद लेकर भावनात्मक सहयोग के साथ पोषण भी प्रदान किया है। वर्तमान में 3210 टीबी मरीज उपचाराधीन हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments