Wednesday, April 17, 2024
Homeप्रदेशदिल्ली सरकार दंगों के शिकार अंकित शर्मा के भाई को देगी नौकरी

दिल्ली सरकार दंगों के शिकार अंकित शर्मा के भाई को देगी नौकरी

नेहा राठौर

बीते साल दिल्ली में सीएए-एनआरसी के नाम हुए दंगे में जान गंवाने वाले इंटेलिजेंस ब्यूरो(IB) कर्मचारी अंकित शर्मा के भाई को सरकारी नौकरी देने का फैसला किया गया है। इस मामले पर दिल्ली की कैबिनेट ने शुक्रवार को अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा को नौकरी देने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इससे पहले सीएम अरविंद केजरीवाल ने अंकित शर्मा के परिवार से मिलकर एक करोड़ रुपये की सहायता राशि भी दी थी।

इस प्रस्ताव को मंजूरी देते हुए दिल्ली सरकार ने बीजेपी पर आरोप लगाया कि ‘बीजेपी ने अंकित शर्मा हत्याकांड को सिर्फ एक बड़ा राजनीतिक मुद्दा बनाया था, लेकिन जब मदद करने की बारी आई तो बीजेपी की केंद्र सरकार पीछे हट गई। दिल्ली सरकार ने कहा कि केंद्र सरकार ने अंकित शर्मा के परिवार के किसी भी सदस्य को नौकरी देने से मना कर दिया था, लेकिन अब केजरीवाल सरकार ने अंकित शर्मा के आई अंकुर शर्मा को नौकरी देने का फैसला किया है।’

बता दें कि साल 2020 में हुए दिल्ली दंगो के दौरान भजनपुरा इलाके में आईबी कर्मचारी अंकित शर्मा को भीड़ ने घेरकर उनकी हत्या कर दी गई थी। इसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अंकित शर्मा के परिवार से मुलाकात की थी। जहां उन्होंने उन्हें एक करोड़ी रुपये की सहायता राशि दी थी और यह वादा किया था कि उनके परिवार के किसी एक सदस्यों को नौकरी दी जाएगी। शुक्रवार को केजरीवाल ने अपना वादा पूरा किया। उन्होंने कहा कि जल्द से जल्द दिल्ली सरकार अंकित शर्मा के भाई को उसकी योग्यता के अनुसार सरकारी नौकरी देगी। दिल्ली सरकार ने कहा कि

गौरतलब है कि पिछले साल नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान हुए दंगों में कुल 46 लोगों की मौत हुई थी। इस हिंसा के दौरान भजनपुरा में आईबी कर्मचारी अंकित शर्मा की भी मौत हो गई थी। पुलिस ने उनका शव एक नाले से बरामद किया था। उसके बाद उनके शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया। उनकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक उनके शरीर पर चाकू से कई बार वार किया गया था जिस कारण उनकी मौत हो गई। 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments