Monday, April 15, 2024
Homeस्वास्थ्यसंचारी रोग नियंत्रण अभियान 

संचारी रोग नियंत्रण अभियान 

फिरोजाबाद | संचारी रोग नियंत्रण अभियान को लेकर स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली है। इस अभियान में 1781 टीमें कार्य करेंगी जो घर-घर जाकर पांच प्रकार की बीमारियों से ग्रसित मरीजों की लाइन लिस्टिंग करेंगी। रोगों से बचाव को लेकर प्रचार-प्रसार पर भी जोर रहेगा। संभावित टीबी, बुखार रोगियों के अलावा कुपोषण से ग्रसित बच्चों की भी सूची बनाई जाएगी, ताकि इन्हें उपचारित किया जा सके।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नरेंद्र सिंह ने बताया कि दो चरणों में एक से 30 अप्रैल तक विशेष संचारी रोग नियंत्रण और 17 से 30 अप्रैल तक दस्तक अभियान चलेगा। विभाग ने इन दोनों अभियानों की पूरी तैयारी कर ली है।
नोडल ऑफिसर डॉ अशोक कुमार ने बताया कि अभियान में स्वास्थ्य विभाग सहित कुल ग्यारह विभाग सहयोग करेंगे। अभियान के दौरान आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ता प्रत्येक घर पर टीबी के संभावित रोगियों की जानकारी लेंगी। लक्षण वाले किसी व्यक्ति के मिलने पर उसका नाम, पता एवं मोबाइल नंबर सहित संपूर्ण विवरण एक लाइन लिस्टिंग फॉर्मेट में अंकित कर क्षेत्रीय एएनएम के माध्यम से ब्लाक मुख्यालय पर उपलब्ध कराएंगी। साथ ही बुखार, आईएलआई (इन्फ्लुएंजा लाइक इलनेस) रोगियों व कुपोषित बच्चों की सूची बनाएंगी। क्षेत्रवार ऐसे मकानों की सूची भी बनेगी, जहां घरों के भीतर मच्छरों का प्रजनन पाया गया हो।
जिला मलेरिया अधिकारी एसपी गुप्ता ने बताया कि अभियान में कुल 1781 टीमें और 247 सुपरवाइजर लगाए जाएंगे। डेंगू प्रभावित इलाकों में नगर निकाय, ग्राम पंचायत और स्वास्थ्य विभाग की संयुक्त टीम अभियान चलाएगी। पशुपालन विभाग के माध्यम से सूअर पालकों को जागरूक किया जाएगा।
गत वर्ष जनपद में 359 डेंगू के केस मिले थे। मलेरिया के मरीजों की संख्या कम रही। गत वर्ष में पैंडत, महासिंहपुर, भारल, कोटला इलाकों में सर्वाधिक डेंगू के मरीज मिले।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments