Friday, April 12, 2024
HomeदेशCBSE ने सुप्रीम कोर्ट को बताया 12वीं कक्षा के रिजल्ट का फार्मूला

CBSE ने सुप्रीम कोर्ट को बताया 12वीं कक्षा के रिजल्ट का फार्मूला

नेहा राठौर

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी CBSE ने गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट को 12वीं कक्षा के रिजल्ट का फार्मूला बता दिया है। इस फॉर्मूले के मुताबिक छात्रों के 12वीं का रिजल्ट उनके 10वीं, 11वीं और 12वीं कक्षा में मिले नंबरों के आधार पर ही तय किया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट में सीबीएसई ने कहा कि 10वीं और 11वीं के तीन अहम विषयों के आधार पर छात्रों को 30-30 प्रतिशत अंक दिए जाएंगे। सीबीएसई के इस फॉर्मूले से याचिकाकर्ता और जस्टिस एएम खानविलकर समेत जस्टिस दिनेश माहेश्वरी की खंडपीठ ने संतुष्टि जताई है।

सीबीएसई ने यह भी बताया की 12वीं के रिजल्ट में यूनिट, टर्म और प्रैक्टिकल से मिले नंबरों को भी जोड़ा जाएगा। बता दें कि सीबीएसई ने 12वीं के रिजल्ट का जो फार्मूला बनाया है उसके आधार पर 31 जुलाई तक रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। वहीं सीबीएसई ने यह भी स्पष्ट किया है कि जो बच्चे अपने रिजल्ट से संतुष्ट नहीं होंगें, उन्हें स्थिति सामान्य होने पर परीक्षा देने का मौका दिया जाएगा।

रिजल्ट का फार्मूला-

10वीं- 30 प्रतिशत (मुख्य तीन विषय, जिनमें छात्र के ज्यादा नंबर आएं हो।)

11वीं- 30 प्रतिशत (मुख्य तीन विषय, जिनमें छात्र के ज्यादा नंबर आएं हो।)

12वीं- प्री बोर्ड से 40 प्रतिशत अंक मिलेंगे। (यूनिट टेस्ट और प्रैक्टिकल आदि के नंबरों को जोड़कर रिजल्ट तैयार किया जाएगा।)

यह भी पढें – बंबई हाईकोर्ट: कोविड की दवा खरीदने में सोनू सूद और विधायक सिद्दीकी की भूमिका की हो जांच

ICSE रिजल्ट फार्मूला

CBSE के बाद ICSE ने भी सुप्रीम कोर्ट के सामने 12वीं के रिजल्ट का फार्मूला बताया है। आईसीएसई के फार्मूला के मुताबिक 12वीं का रिजल्ट 10वीं, 11वीं और 12वीं के प्रोजेक्ट और प्रेक्टिकल में मिले नंबर के आधार पर तैयार किया जाएगा। बीते वर्ष भी 12वीं के रिजल्ट आईसीएसई ने इसी नीति से घोषित किए थे।

इस पर सुप्रीम कोर्ट ने आईसीएसई ने कहा कि पिछले साल रिजल्ट पर सिर्फ 10 ही छात्रों ने आपत्ति जताई थी, जो बाद में इम्प्रूवमेंट पेपर देकर पास हुए  थे। बता दें कि ICSE  द्वारा 30 जुलाई तक 12वीं के रिजल्ट घोषित कर दिए जाएंगे।

बता दें कि पिछली बार सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार ने बताया था कि कोरोना के कारण 12वीं की परीक्षा को रद्द कर दिया गया है। इस पर सीबीएसई और आईसीएसई ने अंक देने के ऑब्जेक्टिव क्राइटेरिया तय करने के लिए कोर्ट से समय मांगा था। आज सीबीएसई ने अपना फॉर्मूला पेश कर दिया है।

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे ।

आप हमें Twitter , Facebook , और Instagram पर भी फॉलो कर सकते है।  

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments