गांधी परिवार की वजह से ललित का प्रत्यर्पण रूका: भाजपा

नई दिल्ली।  अपने नेताओं द्वारा ललित मोदी को कथित मदद पहुंचाने के विवाद से बैकफुट पर आयी भाजपा ने आज यह कहते हुए पूर्व आईपीएल प्रमुख और गांधी परिवार के बीच कथित तौर पर संबंध होने का आरोप लगाया कि उन्होंने दावा किया है कि लंदन में प्रियंका गांधी उनकी मुलाकात हुई थी। भाजपा ने आरोप लगाया कि इन्हीं संबंधों के कारण संप्रग शासनकाल में मोदी के प्रत्यर्पण रूका। पार्टी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से इस मामले पर बयान देने की मांग की।

भाजपा के इस बयान पर विपक्षी कांग्रेस ने करारा पलटवार किया और कहा कि ललित मोदी के ट्वीट ‘छोटा मोदी’ (ललित मोदी) द्वारा झूठ के माध्यम से बड़े मोदी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) की मदद करने का मामला है। कांग्रेस को घेरने की कोशिश करते हुए भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, ‘‘आज का बड़ा खुलासा यह तथ्य है कि ललित मोदी ने गांधी परिवार से मुलाकात की थी। वह प्रियंका गांधी एवं राबर्ट वाड्रा से मिले। उन्होंने उनसे भेंट क्यों की?’’ उन्होंने कहा ‘‘आज मुझे स्पष्ट तौर पर बताने दीजिए कि यह मुद्दा ललित मोदी और गांधी परिवार के बारे में है …भाजपा मांग करती है कि सोनिया गांधी बयान दें कि गांधी परिवार पिछले सालों में ललित मोदी के सपंर्क में क्यों था।’’ पात्रा ने दावा किया कि ब्रिटेन ललित मोदी के प्रत्यर्पण के लिए तैयार था, उसके बावजूद तत्कालीन वित्त मंत्री पी चिदम्बरम ब्रिटेन से उनका प्रत्यर्पण चाहते ही नहीं थे। उन्होंने कहा, ‘‘कौन उन्हें रोक रहा था। गांधी परिवार।’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘यह मामला 10, जनपथ के द्वार से शुरू होता है और वहीं खत्म हो जाता है।’’

इन आरोपों पर भाजपा पर पलटवार करते हुए कांग्रेस ने कहा कि रेस्तरां में अचानक किसी से मुलाकात हो जाना कोई अपराध नहीं है और कहा कि ललित मोदी भाजपा की शह पर ध्यान भटकाकर उसे गैर मुद्दों पर ले जाने का काम कर रहे हैं। कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा को अपने ‘कालाधन के किरदारों से कहना चाहिए कि वे मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए लोगों को भुलावे में नहीं डालें।’ उन्होंने कहा कि सरकार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ लगे आरोपों पर लोगों को सफाई देनी चाहिए। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘मैं पूरी जिम्मेदारी से कह सकता हूं कि न तो प्रियंका गांधी और न ही उनके पति राबर्ट वाड्रा ने सामाजिक रूप से कभी ललित मोदी से मुलाकात नहीं की। अगर आपको रेस्तरां में कोई अचानक मिल जाता है तो यह अपराध नहीं है। ‘‘छोटा मोदी’’ झूठ के सहारे ‘‘बड़ा मोदी’’ को मदद कर रहा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ध्यान भटकाकर गैर मुद्दों पर ले जाना भाजपा की तरकीब है। सरकार को असली मुद्दों के बारे में बात करना चाहिए और ललित मोदी के पीछे नहीं छिपना चाहिए।’’

ललित मोदी ने गुरुवार रात ट्वीट किया कि लंदन में ..गांधी परिवार से मिलने पर खुशी हुयी। मैं प्रियंका और राबर्ट वाड्रा से अलग अलग मिला था। ललित मोदी प्रकरण में सुषमा स्वराज और वसुंधरा राजे को बर्खास्त किए जाने की पार्टी की मांग को दोहराते हुए सुरजेवाला ने कहा कि उन्होंने ऐसे भगोड़े की मदद की है जिसने ‘‘बहुत बड़े पैमाने की धोखाधड़ी की।’’

 

Comments are closed.