एक सुर में बोली आप और कांग्रेस दिल्ली पुलिस अमित शाह की कठपुतली

संवाददाता नई दिल्ली। कोरोना काल में जिस दिल्ली पुलिस ने जनता और जनप्रतिनिधियों से प्रशंसा हासिल की, उसी दिल्ली पुलिस पर राजधानी में चल रहे सियासी घमासान पर पक्षपात के आरोप लग रहे हैं।

पक्षपात के आरोप केवल आम आदमी पार्टी ही नहीं, आप और उसकी चिर परिचित प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस भी लगा रही है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के आवास पर दिल्ली नगर निगम  के 13 करोड़ रुपये की मांग को लेकर तीनों मेयर सहित बीजेपी के कई नेता कई दिनों से धरने पर बैठे हैं। इस पर आम आदमी पार्टी ही नहीं, बल्कि कांग्रेस भी सवाल उठा रही है कि दिल्ली पुलिस उन्हें इस तरह की इजाजत कैसे दे सकती है।कांग्रेस के पूर्व विधायक और पूर्व डीपीसीसी महामंत्री हरि शंकर गुप्ता ने आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस ग्रह मंत्री अमित शाह की शह पर लोकतंत्र का गला घोंट रही है।

ये भी पढ़ें पुलिस और ‘आप’ के बीच टकराव, क्यों केजरीवाल के विधायकों को किया गिरफ्तार ?

हरि शंकर गुप्ता ने कहा कि दिल्ली पुलिस कांग्रेस नेताओं का प्रदर्शन नहीं करने देती। कांग्रेस के कितने ही नेताओं के खिलाफ मुकदमें दर्ज़ हो गए। लेकिन सीएम आवास के बाहर प्रदर्शन कर रहे बीजेपी नेताओं को खुली छूट मिली हुयी है। दिल्ली पुलिस उनकी सेवा कर रही है। जबकि प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस नेताओं को पुलिस ऐसे गाड़ियों में ठूंसती है जैसे सामान को फेंका जाता है। 

आम आदमी पार्टी भी दिल्ली पुलिस पर ऐसे ही आरोप लगा रही है। सीएम आवास पर धरना दे रहे बीजेपी नेताओं के जवाब में आम आदमी पार्टी ने भी दिल्ली पुलिस से ग्रह मंत्री अमित शाह के आवास पर प्रदर्शन की अनुमति मांगी। दिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी के किसी नेता को ग्रह मंत्री आवास के नजदीक नहीं आने दिया। उन तमाम नेताओं को घर से बाहर निकलते ही हिरासत में ले लिया जो अमित शाह के आवास पर प्रदर्शन करने जाना चाहते थे।

किराड़ी से विधायक ऋतुराज झा सहित 9 नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया। ऋतुराज झा ने इसे लोकतंत्र की ह्त्या और भ्र्ष्टाचारियों को शह देने वाला कदम बताया। ऋतुराज झा ने कहा कि वे नगर निगम में ढाई हज़ार करोड़ रुपये के घोटाले की मांग को लेकर मिलने जा रहे थे। एलजी हाउस पर भी नगर निगम नेता विपक्ष विकास गोयल, विधायक आतिशी की दिल्ली पुलिस के साथ झड़प तक हुई। किसान आंदोलन के साथ साथ दिल्ली के सियासी माहौल ने भी दिल्ली पुलिस की मुसीबत बढ़ा दी है। लेकिन सियासी दलों के सवालों ने उसकी निष्पक्षता को सवालों के घेरे में लाकर खड़ा कर दिया है।

ये भी पढ़ें – विधायक दिलीप पांडेय का विरोधियो को अनूठा आतिथ्य सत्कार

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे।

आप हमें Twitter , Facebook पर भी फॉलो कर सकते है।

Comments are closed.