ऑटो चालकों का आतंक …. मासूम फिर बना शिकार

प्रीती भंडारी 

राजधानी में ऑटो सवार  बदमाशों का आतंक दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है।  विरोध करने पर ये ऑटो चालक चाकू और गोली तक मारने से परहेज नही कर रहे है।  चालकों और बदमाशों की मिलीभगत होने के कारण  बदमाश तड़के यात्रियों को ऑटो में बिठाकर सुनसान जगह पर पैसे समेत सारा सामान लूट लेते हैं। इससे पहले भी इस तरह का मामला सामने आया था जहां ऑटो सवार तीन बदमाशों ने छात्र से लूटपाट की। विरोध करने पर चाकू से  वार भी किया। छात्र की शिकायत पर कश्मीरी गेट थाना पुलिस ने लूटपाट व आ‌र्म्स एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस अब तक न तो बदमाश और न ही ऑटो चालक के बारे सुराग लगा पाई है।

पुलिस के मुताबिक छात्र का नाम रवि जोशी बताया जा रहा है।  रवि मूल रूप से उत्तराखंड निवासी है। उसे  राजस्थान  परीक्षा देने जाना था। 19 अगस्त की देर रात  वह उत्तराखंड से आनंद विहार बस अड्डा पंहुचा । जहां से उसने  नई दिल्ली रेलवे स्टेशन जाना था।  दिल्ली के बारे में अधिक जानकारी नहीं होने के कारण । बस अड्डे के बाहर से जब उसने ऑटो लिया तो ऑटो चालक ने उससे मोटी रकम ऐंठ कर आइएसबीटी कश्मीरी गेट ले जाकर छोड़ दिया।

 वहां से सुबह चार बजे उसने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन जाने के लिए दूसरा ऑटो लिया। उस ऑटो में पहले से चालक समेत तीन लोग सवार थे। बदमाशों ने उसे सिविल लाइंस इलाके में सुनसान जगह पर ले जाकर चलते ऑटो में ही लूटपाट शुरू कर दी। विरोध जताने पर चाकू से हमला किया। उसके पास से तीन हजार रुपये व मोबाइल फोन आदि लूटकर फरार हो गए। रवि पर किसी राहगीर की नजर पड़ने पर उसने पुलिस को 100 नंबर पर फोन कर सूचना दी। पुलिस ने उपचार के लिए उसे सुश्रुत ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया। बुधवार को उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। पुलिस का मानना है कि ऐसी घटनाओं के शिकार हुए बहुत कम लोग ही मुकदमा दर्ज कराते हैं।

Comments are closed.