ई-रिक्शा ने लिया एक और मासूम की जान

–प्रीति भंडारी 

बताया जा रहा है पिता के साथ पिज्जा लेने जा रहे तीन साल के प्रिंस को ई-रिक्शा ने टक्कर मर दिया। घायल प्रिंस को अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन प्रिंस मौत से जंग लड़ते लड़ते हार गया। इस घटना के बाद से एक बार फिर ई-रिक्शा पर सवाल उठने लगे हैं।
पिता के साथ पिज्जा खाने गया था प्रिंस
उत्तर पूर्वी दिल्ली के मानसरोवर पार्क इलाके में एक 3 साल के बच्चे को पिज्जा खाने की जिद्द इतनी महंगी पड़ी कि उसको अपनी जान से हाथ धोना पड़ गया। अशोक नगर में रहने वाले पेशे से गायक अरविन्द का 3 साल का बेटा मंगलवार शाम पिज्जा खाने की जिद्द करने लगा। अरविंद ने समझाया लेकिन वह नहीं माना।
अरविन्द अपने तीन साल के बेटे प्रिंस के साथ ऑटो से पिज्जा लेने के लिए मार्केट में गए। अरविन्द पिज्जा लेकर अपने बेटे प्रिंस के साथ सड़क पार कर रहे थे तब ही अचानक एक तेज रफ़्तार ई-रिक्शा ने प्रिंस को कुचल दिया जिससे प्रिंस बुरी तरह जख्मी हो गया। अरविन्द ने उसे अस्पताल में भार्ती कराया जहां पर लगभग 24 घंटे से भी ज्यादा समय तक प्रिंस मौत से जंग लड़ने के बाद हार गया और उसकी मौत हो गई।

ई-रिक्शा चालक को नही पकड़ पायी पायी है पुलिस
प्रिंस को कुचलने के बाद ई-रिक्शा मौके से फरार हो गया। इसकी पूरी घटना की जानकारी पीड़ित परिवार ने पुलिस को दिया। पुलिस ने मुकदमा भी दर्ज कर लिया लेकिन घटना के 48 घंटे गुजर जाने के बावजूद पुलिस के हाथ अब तक खाली है।

Comments are closed.