Friday, April 19, 2024
Homeअन्यजन सहयोग व जागरूकता से ही बनेगा टीबी मुक्त समाज : सीएमओ

जन सहयोग व जागरूकता से ही बनेगा टीबी मुक्त समाज : सीएमओ

फिरोजाबाद । वर्ष 2025 तक टीबी रोग मुक्त समाज बनाने के लिए जन सहयोग व जागरूकता बहुत जरूरी है। जन समुदाय में क्षय रोग के बारे में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से ही प्रत्येक वर्ष 24 मार्च को विश्व क्षय रोग दिवस मनाया जाता है। यह जानकारी विश्व क्षय रोग दिवस की पूर्वसंध्या पर आयोजित पत्रकार वार्ता में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. नरेन्द्र सिंह ने दी| उन्होंने बताया कि जिला मुख्यालय एवं अन्य टीबी यूनिट के माध्यम से स्कूल, कॉलेजों, मदरसों, एनसीसी कैडेट और एनएसएस स्वयंसेवकों का संवेदीकरण, टीबी इकाइयों पर गोष्टी, रैली, जनप्रतिनिधियों की अध्यक्षता में मैजिक शो, नुक्कड़ नाटक व जागरूकता के कार्यक्रम आयोजित कराए जाएंगे।
जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. ब्रजमोहन ने बताया इस वर्ष विश्व क्षय रोग दिवस की थीम, ‘हां! हम टीबी खत्म कर सकते हैं’ तय की गई है। यह थीम तभी साकार होगी जब समाज के प्रत्येक वर्ग के लोग निक्षय मित्र के रूप में आगे आएं और क्षय रोगियों के गोद लेकर उन्हें पोषण आहार के साथ-साथ सामाजिक और भावनात्मक सहयोग प्रदान करें।
डॉ ब्रजमोहन ने बताया कि जनपद में विश्व क्षय रोग के अवसर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। जन सामान्य को व्यापक प्रचार-प्रसार के माध्यम से टीबी के लक्षणों की पहचान, स्वास्थ्य केंद्रों पर जांच और उपचार की सुविधा के बारे में जागरूक किया जाएगा।
डीपीपीसीएम मनीष यादव ने बताया कि संभावित टीबी के लक्षणों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, शीघ्र ही नजदीकी टीबी जांच केंद्र पर अवश्य जांच कराएं। टीबी का उपचार व जांच सरकारी स्वास्थ्य केन्द्रों पर उपलब्ध है। साथ ही टीबी मरीज को पोषण के लिए उपचार जारी रहने तक सरकार द्वारा डीबीटी के माध्यम से 500 रूपए प्रति माह दिए जाते हैं।
टीबी के संभावित लक्षण-
– दो सप्ताह से अधिक खांसी हल्का बुखार आना
– शरीर में थकान महसूस करना
– वजन कम होना
– भूख न लगना
– रात में पसीना आना

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments