Monday, May 27, 2024
HomeराजनीतिSahara Protest : महाराष्ट्र में तीसरी भारत यात्रा पर मदन लाल आज़ाद 

Sahara Protest : महाराष्ट्र में तीसरी भारत यात्रा पर मदन लाल आज़ाद 

भुगतान को लेकर सहारा इंडिया के साथ ही दूसरी ठगी कंपनियों के खिलाफ चल रहा है आंदोलन लगातार बढ़ा रूप लेता जा रहा है। ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार के राष्ट्रीय संयोजक मदन लाल आजाद 3 अप्रैल से निवेशकों को उनका भुगतान दिलाने के लिए तीसरी भारत यात्रा पर निकल गये हैं। बड्स एक्ट के तहत निवेशकों की लड़ाई लड़ रहे मदन लाल आजाद ने तीसरी भारत यात्रा महाराष्ट्र के नागपुर शहर से शुरू की है। महाराष्ट्र के विभिन्न जिलों में निवेशकों को जागरूक करते हुए मदन लाल आजाद ठगी कंपनियों को ललकार रहे हैं। महाराष्ट्र में भी मदन लाल आजाद ने निवेशकों के भुगतान के लिए सड़कों पर उतरने का आह्वान किया है।


मदन लाल आजाद का कहना है कि अब लड़ाई आर-पार की चल रही है। हमें भुगतान केंद्र सरकार के साथ ही विभिन्न राज्य सरकारों से चाहिए। उनका कहना है कि ठगी कंपनियों की संपत्ति बेचकर बड्स एक्ट के तहत निवेशकों का भुगतान कराया जाए तथा जिन कंपनियों की वजह से निवेशक और जमाकर्ता परेशान हैं उन कंपनियों को डायरेक्टरों को कठोर से कठोर सजा दी जाए। मदन लाल आजाद ने स्पष्ट रूप से कह दिया है कि वह हर हाल में निवेशकों का भुगतान कराएंगे। सरकारों के टाल-मटोल रवैये पर नाराजगी व्यक्त करते हुए मदन लाल आजाद ने कहा कि या तो सरकारों को निवेशकों का भुगतान कराना होगा नहीं तो इन सरकारों को उखाड़ फेंका जाएगा। मदन लाल आज़ाद ने कहा है कि हम लोगों ने  25 अगस्त 2022 देवभूमि उत्तराखंड के कोटद्वार से छोटे से कारवां के रूप में निवेशकों की लड़ाई के लिए पहली भारत यात्रा शुरू की थी। बुंदेलखंड के बान्दा, महोबा चित्रकूट से  फतहभूमि फतेहपुर ने यात्रा का नया सवेरा हुआ था।


उन्होंने कहा कि मिशन भुगतान का लक्ष्य भारत का भुगतान कराना, देश के हर जिले में भुगतान काउंटर खुलवाना, अनियमित जमा योजनाएं पाबंदी कानून 2019 बड्स एक्ट का प्रचार-प्रसार करके जनता को भुगतान अधिकार के विषय में जागरूक करना है। मदन लाल आज़ाद ने कहा कि उनका मिशन दिल्ली,  उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड, उड़ीसा, सिक्किम और महाराष्ट्र के अलावा कई प्रदेशों में चल रहा है। हल हाल में निवेशकों का भुगतान कराना है। भारत यात्रा में मदन लाल आजाद के साथ राष्ट्रीय महासचिव रमेश सिंह के अलावा काफी संख्या में जप तप के कार्यकर्ता निवेशकों की लड़ाई लड़ रहे हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments