Friday, April 19, 2024
HomeअपराधPunjab: कौन है अमृतपाल? तलवारों के दम पर थाने पर कर लिया...

Punjab: कौन है अमृतपाल? तलवारों के दम पर थाने पर कर लिया कब्जा, अमित शाह को भी दे चुका है धमकी

अपनी पत्रिका ब्यूरो  

चंडीगढ़। पंजाब के एक थाने पर कब्जे को लेकर अमृतपाल सिंह पूरे देश में चर्चा का केंद्र बना हुआ है। दरअसल अमृतपाल सिंह के समर्थकों ने पंजाब के अमृतसर जिले (Amritsar District In Punjab) के अजनाला थाने को कब्जे में ले लिया। अमृतपाल सिंह के करीबी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था, जिसके विरोध में उसके समर्थकों ने थाने पर हमला बोल दिया। कई समर्थकों के हाथों में तलवारें और अन्य हथियार भी थे।

कौन है अमृतपाल सिंह?

अमृतपाल सिंह का जन्म पंजाब के तरनतारन जिले के पट्टी गांव में हुआ था। उसका जन्म 1993 में हुआ था और वह अपने समर्थकों के बीच में गुरु वारिस के नाम से प्रसिद्ध है। अमृतपाल सिंह “वारिस पंजाब डे” नामक संगठन का मुखिया है, जो यह दावा करता है कि वह पंजाबी कल्चर को प्रमोट करता है।

अमृतपाल सिंह हमेशा विवादों में रहा है और अपने बयानों की वजह से काफी चर्चा में रहा है। अमृतपाल सिंह अपनी खालिस्तान समर्थक सोच की वजह से भी काफी चर्चा में रहता है। कुछ दिन पहले ही उसने गृह मंत्री अमित शाह को धमकी दी थी और इंदिरा गांधी जैसा हश्र करने की बात की थी।

2018 में पंजाब पुलिस ने अमृतपाल को गिरफ्तार किया

वर्ष 2018 में पंजाब पुलिस ने अमृतपाल सिंह को गिरफ्तार किया था, क्योंकि उसने सिख कम्युनिटी के खिलाफ अपमानजनक शब्दों का उपयोग किया था। ऐसा अमृतपाल सिंह पर आरोप था। वहीं वर्ष 2020 में उसे दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उस पर आरोप था कि उसने किसान आंदोलन के दौरान भड़काऊ भाषणों का उपयोग किया था।

अमृतपाल सिंह ने कुछ दिन पहले गृह मंत्री अमित शाह को धमकी देते हुए कहा था कि अगर उन्होंने खालिस्तान आंदोलन को रोकने की कोशिश की, तो उनका भी वही हश्र होगा जो इंदिरा गांधी का हुआ था। लेकिन बाद में अमृतपाल सिंह ने इस बयान पर यू-टर्न ले लिया और कहा कि मैंने गृह मंत्री को किसी तरह की धमकी नहीं दी है। अमृतपाल सिंह जिस संगठन का मुखिया है, उसकी स्थापना दीप सिद्धू ने की थी, जिसकी पिछले साल सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments