Friday, April 19, 2024
Homeअपनी पत्रिका संग्रहमनीष सिसोदिया को राहत नहीं, ईडी ने सप्लीमेंट्री चार्जशीट की दायर, २०००...

मनीष सिसोदिया को राहत नहीं, ईडी ने सप्लीमेंट्री चार्जशीट की दायर, २००० पन्नों के आरोप पत्र में पूर्व डिप्टी सीएम का नाम

नई दिल्ली। दिल्ली के पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के खिलाफ ईडी ने २००० पन्नों की सप्लीमेंट्री चार्जशीट दायर की है। मनीष सिसोदिया के खिलाफ सीबीआई भी चार्जशीट दायर कर चुकी है। मनीष सिसोदिया ने जमानत के लिए कोर्ट के दरवाजे भी खटखटाए थे, लेकिन उन्हें जमानत नहीं मिली थी। सिसोदिया फिलहाल तिहाड़ जेल में बंद है।
दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के खिलाफ तीसरी सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की है। यह पहली बार है जब ईडी ने मामले में अपनी चार्जशीट में सिसोदिया का नाम लिया है। इससे पहले आबकारी नीति मामले की जांच कर रही सीबीआई ने अपनी चार्जशीट में सिसोदिया का नाम लिया था। ईडी ने आरोप लगाया है कि पूरे आबकारी नीति मामले के पीछे सिसोदिया मास्टरमाइंड थे और उन्होंने जानबूझकर वित्तीय रिश्वत उत्पन्न करने के लिए नीति को सह-अभियुक्तों को लीक कर दिया था।

दरअसल, 25 अप्रैल को अचानक तबीयत बिगड़ने के बाद दिल्ली शराब घोटाला मामले में तिहाड़ जेल में बंद मनीष सिसोदिया की पत्नी सीमा सिसोदिया को अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसके बाद से उनका इलाज जारी है. एक दिन बाद यानी 26 अप्रैल को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सीएम सिसोदिया से मिलने अपोलो अस्पताल पहुंचे थे। अस्पताल में उन्होंने सीमा सिसोदिया से बातचीत की। उन्होंने मनीष सिसोदिया की पत्नी से स्वास्थ्य के बारे में जानकारी हासिल की. साथ ही डॉक्टरों से भी उनकी तबीयत का जायजा लिया।

आपको बता दें कि

अपोला अस्पताल में सिसोदिया की पत्नी सीमा सिसोदिया 24 अप्रैल से अस्पताल में भर्ती हैं। उन्हें मल्टीपल स्केलेरोसिस बीमारी है। यह एक आटो इम्यून सिस्टम से संबंधित बीमारी है। यह इंसान के सेंट्रल नर्व सिस्टम को बुरी तरह से प्रभावित करता है। यह एक ऐसी बीमारी है जिससे प्रभावित व्यक्ति के दिमाग और शरीर के बीच संतुलन समाप्त हो जाता है। इस बीमारी की वजह से मस्तिष्क और शरीर के बीच तालमेल बना रहना संभव नहीं हो पाता। इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को देखने में असुविधा, बोलने में असुविधा, ध्यान केन्द्रित कर पाने में परेशानी और कमजोरी महसूस होता है।

इससे पहले मनीष सिसोदिया ने अपनी पत्नी के खराब स्वास्थ्य के चलते अंतरिम जमानत की भी मांग की थी। इस मामले को लेकर कोर्ट ने ईडी से जवाब दाखिल करने को कहा है। मामले में अगली सुनवाई ११ मई को होगी। सिसोदिया की जमानत याचिका को निचली अदालत ने २८ अप्रैल को खारिज कर दिया था। बता दें कि दिल्ली आबकारी नीति में कथित अनियमितता के आरोप में सीबीआई ने 26 फरवरी 2023 को मनीष सिसोदिया को गिरफ्तार किया था। तभी से वह तिहाड़ जेल में बंद हैं।
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments