6 दुपहिया वाहनो के साथ गिरफ्त में वाहन चोर गिरोह,

-पत्रिका संवाददाता
 दिल्ली। जलबाजी में या फिर चाँद मिनट बचने की चक्कर में आप यदि अपने वाहन की चाबी गाड़ी में ही  लगी छोड़ जाते है तो सावधान हो जाइए। कहीं ऐसा न हो की आप कुछ देर में वापस आये तो आपका दुपहियां वहां वहां से गायब मिले।  नार्थ वेस्ट जिला पुलिस के अशोक विहार थाना पुलिस ने  तीन सदस्यों को गिरफत कर ऐसे ही एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है।  पुलिस ने  इनके कब्जे से चोरी की तीन मोटरसाईकल और दो स्कूटर समेत कुल छ दुपहिया वाहन बरामद किये है।
डीसीपी नार्थ वेस्ट विजय सिंह के अनुसार अनिल कुमार (28 ), मुहम्मद अली अंसारी (23 ) और मोहम्मद अरशद 28 )नाम के ये तीनो वाहन चोर नार्थ वेस्ट दिल्ली के शकूर पर इलाके के रहने वाले है। कुल जमा प्राइमरी और मिडल तक पढ़े ये तीनो वज़ीर पर औद्योगिक क्षेत्र में फैक्ट्री में काम करते थे।  2013 में इन्होने जल्द पैसा कमाने की चाह में  इन्होने वाहन चोरी करनी शुरू की और अब ये ऐसे शातिर चोर बन गए की इनके नजर हमेशा  लोगों पर रहती जो अपने गाड़ी की चाबी गाड़ी में ही लगी छोड़ जाते थे।
 वज़ीर पुर औद्योगिक क्षेत्र पुलिस चौकी में तैनात एसआई उमेश राना को  गुप्त सूचना मिली की ये तीनो चोरी की मोटरसाईकल पर आ रहे है।  इसकी सूचना आला अधिकारीयों को दी गयी और एसीपी मोहम्मद इक़बाल , थाना अध्यक्ष इंस्पेक्टर सत्यप्रकाश, और उपनिरीक्षक  उमेश राना के अगुवाई में टीम बनाई और उन्हें वज़ीर पुर  इंडस्ट्रियल एरिया  में दबोच लिया।
दुपहिया वाहनो को चोरी करने के बाद ये इनके स्पायर पार्ट्स बेच देते या फिर उसे मेरठ बेच जाते। दो साल में ये तीनो पहली बार पकड़े गए है। पुलिस ने इन्हे गिरफ्तार कर कुल 10  मामलों को सुलझाने दावा किया है। अब इस तहकीकात में जुटी है की इस गैंग के अब तक कुल कितनी वारदातों को अंजाम दिया है —
DCP north west byte
DCP north west byte

Comments are closed.