Friday, April 19, 2024
Homeअपनी पत्रिका संग्रहबुक फेयर में बांटी गई फ्री बाइबल, मच गया बवाल, लोगों ने किया विरोध और लगाए नारे

बुक फेयर में बांटी गई फ्री बाइबल, मच गया बवाल, लोगों ने किया विरोध और लगाए नारे

 

दिल्ली के प्रगति मैदान में वर्ल्ड बुक फेयर में विवाद उत्पन्न हो गया है। विवाद एक ऐसी घटना पर जिसका बहुसंख्यक समाज विरोध करता आया है। यहां से एक खबर सामने आयी है जहां फ्री बाइबिल बांटने पर बवाल हो गया। ये खबर बुधवार को हुई और इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।  रिपोर्ट्स के चलते यह बुक स्टॉल ईसाई नॉन प्रॉफिट ऑर्गनाइजेशन गिडियॉन्स इंटरनेशनल का था।

नई दिल्ली, 03 मार्च। रिपोर्ट्स के चलते जिस स्टॉल पर हंगामा हुआ, वो गिदोन इंटरनेशनल नाम के एक ईसाई ग़ैर-लाभकारी संगठन (NGO) का है और ये घटना 1 मार्च को दोपहर क़रीब 2 बजे कि है जहां लगभग 15  लोग स्टॉल पर आए और उन्होंने स्टॉल पर हनुमान चालीसा का पाठ करना शुरू कर दिया और कथित तौर पर स्टॉल पर काम कर रहे वॉलंटियर्स से कहा कि मुफ़्त में बाइबल बांटना बंद करने को बोला और लोगों को ईसाई धर्म में कन्वर्ट करना बंद करो भी बोला। साथ ही वहां के मेले में एक वॉलंटियर ने बताया कि कई स्टॉलों पर बाक़ी धर्मों की किताबें मुफ़्त में बंट रही हैं और साथ ही वॉलंटियर्स ने दावा किया कि हिंदूवादियों ने बाइबल, बाक़ी किताबें और पोस्टर फाड़ दिए थे लेकिन पुलिस ने इस आरोप से इनकार किया है

इसका खुलासा एक वीडियो से हुआ। बता दें कि वायरल वीडियो में कुछ लोग नारे लगाते हुए और साथ ही मुफ्त बाइबिल बांटने से रोकने की मांग करते दिखाई दे रहे थे। साथ ही प्रदर्शनकारी बाद में नारे लगाते हुए वहीं बैठ भी गए। इतना ही नहीं सुरक्षा के नाम पर वहा 25 मिनट बाद में सुरक्षा व पुलिस कर्मियों ने बीच-बचाव कर उन्हें वहां से हटाया।  देखा जाए तो वीडियो में एक प्रदर्शनकारी सदस्य खदु को हिंदू संयुक्त मोर्चा का दिल्ली प्रमुख होने का दावा कर भी करता दिखा था और उसके साथ मौजूद कुछ लोगों ने स्टॉल वॉलेंटियर्स के साथ बहस करना भी शुरू कर दिया था। साथ ही स्टाल के सामने इन लोगों ने नारे लगाने जैसे भारत माता की जय, जय श्रीराम और हर-हर महादेव के नारे लगाना शुरू कर दिए थे।

हालाँकि, विश्व हिंदू परिषद (VHP)  द्वारा इस प्रदर्शन में अपनी भागीदारी से पूरी तरह इनकार किया है और एक बयान में बताया है कि ‘ईसाई समूह और मिशनरी हिंदुओं को फंसाते हैं। लेकिन जो विरोध करने वाले सदस्य है हमसे सीधे तौर पर नहीं जुड़े थे। वही मुफ्त किताबें बांटना मामला नहीं है, यह मूल रूप से मानसिकता का सवाल है।

वहीं नॉन-प्रॉफिट ऑर्गनाइजेशन गिडियन्स इंटरनेशनल ने कहा कि वह 100 रुपए में बाइबल बेच भी रहे हैं और लोगों को फ्री में भी दे रहे हैं। उनका कहना है कि क्या किताब लेने देने से लोगों का धर्म बदल जाता है। पर तना साफ है कि इस स्टॉल से लोगों को फ्री में भी बाइबिल दी जा रही है।

 

 

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments