Monday, April 15, 2024
HomeराजनीतिDelhi Politics : ‘राम के वनवास जाने के बाद जैसे भरत ने...

Delhi Politics : ‘राम के वनवास जाने के बाद जैसे भरत ने निभाई जिम्मेदारी, वैसे ही हम भी करेंगे काम’, मंत्री बनने के बाद आतिशी और सौरभ का बयान

नई दिल्ली 

मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन के इस्तीफों के बाद गुरुवार शाम दिल्ली को दो नए मंत्री मिल गए। गुरुवार शाम राजभवन में आतिशी और सौरभ भारद्वाज ने दिल्ली के कैबिनेट मंत्रियों के रूप में शपथ ली। आतिशी को जहां शिक्षा मंत्रालय के साथ महिला एवं बाल विकास, लोक निर्माण विभाग, विद्युत, कला एवं पर्यटन की जिम्मेदारी दी गई तो वहीं सौरभ भारद्वाज के हिस्से में स्वास्थ्य, शहरी विकास, सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण, सतर्कता, सेवाएं, जल और उद्योग मंत्रालय आए।

मंत्री पद की शपथ लेने के बाद आतिशी और सौरभ भारद्वाज ने कहा कि मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन की अनुपस्थिति में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा उन्हें जो जिम्मेदारियां दी गई हैं, वो उन्हें वैसे ही निभाएंगे जैसे राम के वनवास जाने पर भरत ने उनकी जिम्मेदारियां निभाईं थीं।

आतिशी ने कहा, “जब भगवान श्रीराम को वनवास हुआ था तो उनके छोटे भाई ने उनकी खड़ाऊ को रखकर 14 साल शासन किया था… सत्येंद्र जैन ने और मनीष सिसोदिया जी ने दिल्ली सरकार में दिल्ली के लोगों के लिए काम किया है। जब तक वो इन दोनों इन झूठे मामलों से छूट के बाहर नहीं आते, तब तक हम ये जिम्मेदारी संभालेंगे। उनके वापस आने पर वो ही दोनों लोग शिक्षा और स्वास्थ्य की जिम्मेदारी को आगे लेकर जाएंगे।”

हालांकि इस दौरान सौरभ भारद्वाज ने कहा कि उन्होंने और आतिशी ने विपरीत परिस्थितियों में अपनी नई ज़िम्मेदारियों की शुरुआत की है। उन्होंने कहा, “आजादी के बाद सत्येंद्र जैन और मनीष सिसोदिया ने स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में अच्छा काम किया। लेकिन उन्हें एक साजिश के तहत जेल में डाल दिया गया है। हमने अच्छी परिस्थितियों में इन जिम्मेदारियों को नहीं लिया है।” आतिशी की तरह उन्होंने भी कहा कि जब तक मनीष सिसोदिया औऱ सत्येंद्र जैन रिलीज नहीं होते तब तक वे केयरटेकर मंत्रियों की तरह जिम्मेदारी निभाएंगे।

सत्येंद्र जैन को पिछले साल ED ने मई महीने में मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में गिरफ्तार किया था। उन्हें जेल में 9 महीनों का समय बीत चुका है। मनीष सिसोदिया को सीबीआई द्वारा पिछले महीने कथित शराब नीति मामले में गिरफ्तार किया गया था। इस पॉलिसी को दिल्ली सरकार ने बाद में हटा दिया था। इसके दो दिन बाद मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। सत्येंद्र जैन के इस्तीफे के बाद मनीष सिसोदिया हेल्थ, शिक्षा, PWD, होम मिनिस्ट्री सहित कुल 18 विभागों की जिम्मेदारी निभा रहे थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments