दिल्ली पुलिस ने पेपर लीक करवाने वाले गैंग का किया पर्दाफाश

नेहा राठौर

दिल्ली पुलिस ने एग्जामिनेशन में ऑफलाइन और ऑनलाइन नकल कराने यानी पेपर लीक करवाने और ऑनलाइन एग्जामिनेशन में फर्जी कैंडिडेट बैठाने वाले बड़े गैंग का पर्दाफाश किया है। हैरानी की बात यह है कि इस गैंग को चलाने वाला को युवक नहीं है बल्कि इस गैंग की सरगना एक वैशाली नाम की लड़की है।

बता दें कि दिल्ली पुलिस को सूचना मिली थी कि पश्चिमी दिल्ली के नारायणा इलाके में एक बड़ा गैंग परीक्षाओं में ऑफलाइन और ऑनलाइन नकल कराने का धंधा कर रहा है। इतना ही नहीं इस गैंग ने 4 मार्च को होने वाले फॉरेस्ट गार्ड की नौकरी के लिए भी अपने फर्जी कैंडिडेट शामिल किए थे। जिसके बाद पुलिस ने वहां रेड कर रोहित नाम के शख्स को गिरफ्तार कर लिया, जो वहां नकल करके ऑनलाइन परीक्षा दे रहा था।

यह भी देखें  – डोर स्टेप योजना: केजरीवाल का ऐलान: मानेंगे केंद्र की बात

रोहित को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने उसका मोबाइल फोन खंगाला और उसका व्हाट्सएप डाटा चेक किया तो पता चला कि उसके साथ इस काम में तीन और लोग शामिल हैं। वैशाली का नाम भी शामिल है। 

रोहित ने बताया कि वैशाली नाम की लड़की अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ मिलकर एक बहुत बड़ा गैंग चला रही है। ये गैंग हिंदुस्तान में होने वाले ऑफलाइन-ऑनलाइन परीक्षाओं में या सरकारी पदों पर होने वाली भर्तियों के लिए अपना नेटवर्क को काम पर लगाते हैं जिसमें ये फर्जी कैंडिडेट को परीक्षा दिलवाते हैं।

बता दें कि यह गैंग हरियाणा, राजस्थान, पंजाब, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और खासकर ग्रामीण इलाकों में रहने वाले बेरोजगार नौजवानों को ही अपना निशाना बनाते थे। पुलिस ने रेड के दौरान पुलिस की वर्दी भी बरामद की है। जिसमें एक हेड कांस्टेबल की है और दूसरी सब इंस्पेक्टर की।

वर्दी के बारे में पुछने पर आरोपियों ने खुलासा किया कि आरोपी वैशाली सबको खुद को एक हाई लेवल आईपीएस ऑफिसर बताती है। और जो वर्दी बरामद हुई है वो उसके दो साथियों की है जो उसके साथ रहते थे।

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे ।

आप हमें Twitter , Facebook , औरInstagram पर भी फॉलो कर सकते है।

Comments are closed.