Sunday, June 23, 2024
Homeअन्यBuds_Act_2019 : राजस्थान बाड़मेर में पहुंची मदन लाल आज़ाद की दूसरी भारत...

Buds_Act_2019 : राजस्थान बाड़मेर में पहुंची मदन लाल आज़ाद की दूसरी भारत यात्रा 

अपनी पत्रिका ब्यूरो 
नई दिल्ली/जयपुर/बाड़मेर। ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार यानि की जप तप के राष्ट्रीय संयोजक मदन लाल आज़ाद की दूसरी भारत यात्रा राजस्थान के बाड़मेर में पहुंच चुकी है। मंगलवार को बाड़मेर में मदन लाल आज़ाद ने राजस्थान के प्रवक्ता बृजमोहन योगी को साथ लेकर न केवल रैली निकाली बल्कि निवेशकों को जागरुक भी किया। डीएम को एक ज्ञापन सौंपा गया।

दरअसल ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार (तपजप) संगठन के प्रतिनिधियों ने जिला कलेक्टर बाड़मेर से सचिवालय में मुलाकात कर पीड़ितों का भुगतान अनियमित जमा योजनाएं पाबंदी कानून 2019 के तहत 180 दिन में करवाने हेतु ज्ञापन सौंपा।
प्रतिनिधि मंडल में तपजप के राष्ट्रीय संयोजक मदन लाल आजाद, प्रदेश अध्यक्ष रतनलाल सांखी, प्रदेश संयोजक कंवरसिंह यादव, प्रदेश प्रवक्ता बृज मोहनयोगी  जिला अध्यक्ष बाङमेर गोपाल चन्द भार्गव, साजन मारबाङी, नन्दलाल गर्ग, गोविंद राज बागङी, जगदीश चन्द जाटोल, राकेश व अन्य ठगी पीड़ित जमाकर्ता सभी सम्मिलित थे।
जिला कलेक्टर महोदय ने पीड़ितों के भुगतान एवं कानून की अनुपालना की सिफारिश की है।
ज्ञापन प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री के नाम दिया गया और इन चिटफंड कंपनीज से भुगतान #Buds_Act_2019 कानून के तहत 180 कार्यदिवस में दिलवाने की मांग की गई।
कलेक्टर महोदय ने प्रतिनिधि मंडल को आश्वस्त किया कि वह आज ही इस संदर्भ में प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, के नाम ज्ञापन को सरकार तक पहूँचाने का कार्य करूंगा तथा सभी चिटफंड कम्पनीज एवं सोसाइटी के पीड़ितों का भुगतान सुनिश्चित करवाएंगे।
उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार ने बड्स एक्ट 2019 के तहत भुगतान अधिकारी डिप्टी रजिस्ट्रार सहकारिता को नियुक्त किया है जो केवल क्रेडिट सोसाइटीज के पीड़ितों के भुगतान के दावे ऑनलाइन स्वीकार करता है जबकि एक्ट में साफ साफ लिखा है कि राज्य सभी ठगी पीड़ितों का भुगतान 180 दिन में सक्षम अधिकारियों के माध्यम से करेगा।
इस अवसर पर मदन लाल आज़ाद ने कहा कि राजस्थान में सभी निवेशकों को हर हाल में भुगतान दिलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि निवेशकों को भुगतान के लिए अपने घरों से निकलना होगा। 14 मार्च को राजस्थान के सभी जिलों में जिलाधिकारियों का घेराव किया जाएगा। सभी निवेशक अभी इस इस कार्यक्रम की तैयारी में जुट जाएं।
दरअसल जप तप 14 मार्च को देशभर के सभी डीएम कार्यालयों का घेराव करने जा रहा है। यह घेराव कार्यक्रम उन जिलाधिकारियों के खिलाफ किया जा रहा है जो निवेशकों को भुगतान दिलाने के लिए बनाये गए बड्स एक्ट का उल्लंघन कर रहे हैं। इस घेराव कार्यक्रम को संगठन के राष्ट्रीय संयोजक मदन लाल आज़ाद ने मंगल में दंगल का नाम दिया है। दरअसल ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार ने गत 21 फरवरी को प्रयागराज में बड्स एक्ट के तहत बड़ी लड़ाई लड़ने की रणनीति बनाने के लिए जो सम्मेलन किया था, उसकी सफलता से संगठन के कार्यकर्ता बहुत उत्साहित हैं। ठगी पीड़ित जमाकर्ता परिवार के कार्यकर्ता अब आर-पार की लड़ाई के मूड में आ गये हैं। प्रयागराज के कार्यक्रम में ही मदन लाल आज़ाद ने बड्स एक्ट का उल्लंघन न करने वाले अधिकारियों को दंड दिलाने का ऐलान कर दिया था। उन्होंने कहा था कि बड्स एक्ट का उल्लंघन करने वाले अधिकारियों को दंड दिए बिना यह लड़ाई नहीं जीती जा सकती है।

आज मदन लाल आज़ाद ने राजस्थान के बाड़मेर जिले के प्रोटेस्ट में शिरकत की। मदन लाल आज़ाद सहारा इंडिया के साथ ही दूसरी ठगी कंपनियों के खिलाफ भी मोर्चा खोला खोले हुए हैं।  14 मार्च के डीएम घेराव कार्यक्रम को लेकर मदन लाल आज़ाद ने कहा है कि जो जिलाधिकारी बड्स एक्ट का उल्लंघन कर रहे हैं उन्हें उनका संगठन जेल भिजवाने का काम करेगा। या तो 14 तारीख से पहले वे सुधर जाएं नहीं तो उन्हें उसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। उन्होंने कहा है कि चाहे सहारा इंडिया का मामला हो या फिर दूसरी ठगी कंपनियां का, सभी को निवेशकों का भुगतान करना ही होगा। उनका कहना था कि अब चाहे कंपनियां हों, केंद्र सरकार हो या फिर राज्यों की सरकारें सभी को निवेशकों का भुगतान कराना ही होगा।

मदन लाल आजाद का कहना है कि उन्हें उम्मीद है कि 23  मार्च शहीदी दिवस तक सभी निवेशकों के भुगतान दिलाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। यदि 23  मार्च शहीदी दिवस तक सभी का भुगतान नहीं होता है तो शहीदी दिवस को दिल्ली के कर्तव्य पथ पर बैठ कर केंद्र सरकार से हिसाब लिया जाएगा। उनका दावा है कि जहां 14 मार्च को देशभर में करोड़ों निवेशक विभिन्न जिलाधिकारियों के कार्यालयों का घेराव करेंगे वहीं 23 मार्च शहीदी दिवस पर कर्तव्य पथ पर 20 लाख से ज्यादा निवेशक जुटेंगे। मदन लाल आजाद का कहना था कि यदि केंद्र सरकार क्रांति ही चाहती है तो फिर दिल्ली कर्तव्यपथ पर क्रांति ही कर दी जाएगी।

मदन लाल आज़ाद ने ऐलान कर दिया है कि देश में भ्रष्ट नेताओं और भ्रष्ट ब्यूरोक्रेट्स को टिकने नहीं दिया जाएगा। उनका कहना था कि सभी नेता और ब्यूरोक्रेट्स जानते हैं कि देश में जिस दिन 40 करोड़ ठगी पीड़ित खड़े हो गये तो उनकी क्या हालत होगी। इसलिए कोई नहीं चाहेगा कि देश में क्रांति हो। कोई नहीं चाहेगा कि 40 करोड़ लोग बगावत करें। लाखों करोड़ रुपये की धनराशि जुटाने के लिए उन्होंने जहां कंपनियों की संपत्ति नीलाम करने की बात कही है वहीं यह भी कहा है कि देश में जिस तरह से किसी आपदा पर एक बड़ा पैकेज घोषित किया जाता है ऐसे ही ठगी कंपनियों के पीड़ित निवेशकों के लिए कोई बड़ा पैकेज घोषित किया जाए। या तो राज्य सरकारें अपने स्तर से वह पैसा दें। नहीं तो केंद्र सरकार सभी राज्यों के निवेशकों के लिए राहत पैकेज की घोषणा करे।
दरअसल मदन लाल आज़ाद ठगी कंपनियों के खिलाफ निवेशकों का भुगतान कराने के लिए दूसरी भारत यात्रा पर हैं। वैसे तो वह बिहार, उत्तराखंड, झारखंड और उड़ीसा तक में निवेशकों की लड़ाई लड़ रहे हैं पर उत्तर प्रदेश और राजस्थान में तो उनका कार्यक्रम युद्धस्तर पर चल रहा है। वैसे तो देशभर में हजारों पदाधिकारी उनके कंधे से कंधा मिलाकर चल रहे हैं पर सगठन के राष्ट्रीय महासचिव रमेश सिंह उनका दाहिना हाथ और उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष एस.डी. विश्वकर्मा बायां हाथ बने हुए हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments