दिल्ली की नई शराब नीति पर बीजेपी ने जताया ऐतराज

नेहा राठौर

दिल्ली सरकार के शराब खरीदने की उम्र में बदलाव करने को लेकर बीजेपी ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा है। केजरीवाल सरकार के इस फैसले पर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने ‘आप’ को घेरते हुए कहा कि ‘वादा तो किया था कि यमुना का पानी साफ करेंगे, दिल्ली को नशे से बचाएंगे। लेकिन यहां तो दिल्ली को और छोटे-छोटे बच्चों को शराब पिलाने लगे। सांसद बोले कि पंजाब में नशे को लेकर तो उन्होंने बहुत प्रचार किया थी कि नशे में डूबा दिया है, अकाली दल पर और कई अन्य नेताओं पर इसका ठीकरा फोड़ते थे और आज खुद 25 से 21 साल तक के बच्चों को शराब परोसना चाहते हो। शर्म आनी चाहिए’।

वहीं बीजेपी सांसद के सवालों का जवाब देते हुए आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा कि दिल्ली सरकार ने यह फैसला लिया है क्योंकि यही नियम देश के बाकी राज्यों में भी लागू है। इसलिए इसमें संशोधन किया गया है।

यह भी देखें : थलाइवी के ट्रेलर लॉन्च पर क्यों रोई कंगना

बता दें कि सोमवार को दिल्ली सरकार ने शराब खरीदने की उम्र में बदलाव करते हुए 25 साल से घटाकर 21 साल कर दी है। इसी के साथ और भी कई बदलाव किए है। जैसे अब से दिल्ली में शराब की कोई सरकारी दुकान नहीं होगी, अब तक जितनी दुकानें दिल्ली में है उनके अलावा अब कोई नई दुकान राष्ट्रीय राजधानी में नहीं खोली जाएंगी, अब से निवीदा के जरिए ही निजी लोगों को शराब की दुकानें दी जाएंगी। फिलहाल दिल्ली में कुल 850 शराब की दुकानें है। इस फैसले पर बीजेपी ने एतराज जताते हुए विरोध करने का फैसला किया है।

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे ।

आप हमें Twitter , Facebook , औरInstagram पर भी फॉलो कर सकते है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.