शादी के नाम पर लाखों की लूट , दो आरोपी गिरफ्तार

दिल्ली के बाड़ा हिन्दूराव थाने के अंदर आने वाले पुलबंगश इलाके में शादी के नाम पर लूट की एक वारदात सामने आई है। आज कल लुटरे नए नए तरीकों से भोले भाले लोगों को लूट रहे है। व नई नई वारदातो को अंजाम दे रहे है।अगर आपको भी कोई अनजान व्यक्ति शादी का ऑफर दे रहा है तो सावधान हो जाइये। राजधानी दिल्ली में ऐसी ही एक वारदात सामने आई जहाँ शादी का झांसा देकर हथियारों के बल पर एक परिवार से लूटपाट की गई यानि शादी के नाम पर ठगी और लूट को अंजाम दिया गया। इस काम में एक या दो लोग नहीं बल्कि पूरी की पूरी गैंग मिली हुई है। पुलिस के क्राईम ब्रांच ने गैंग के दो लोगो को गिरफ्तार कर लिया है। ये शादी के नाम पर कई लोगों को बेवकूफ बना चुके है।

पुलबंगश इलाके में हाजी मोहम्मद ( सय्यद बावर्ची ) अपने पुरे परिवार के साथ रहते है। दरअसल रमजान से पहले इनके इलाके में एक परिवार आया  आस पास के लोगों से हाजी मोहम्मद का घर पूछ रहा था उनके घर का पता जानने की कोशिश कर रहा था। जिसके बाद दो महिलाओ समेत कुछ लोग इनके यहां पहुचे और कहा कि वो अपने लड़के का रिश्ता इनकी बेटी से करना चाहते है। इसके बाद उनकी मुलाकात हुई। बताया जा रहा है की इनकी मात्र तीन मुलाक़ातें ही हुई है आखिरी मुलाक़ात में इनके घर एक महिला समेत कुछ लोग शादी की बात को आगे बढ़ाने आए उस समय घर में महिला और बच्चे ही थे उन्हें अकेला पाकर ठगों ने बंदूक व चाकू की नौक पर सबको बंधक बना लिया तथा इनके घर से लाखो की ज्वैलरी और कैश लेकर फरार हो गए और बाहर से ताला भी लगा गए।हाजी मोहम्मद का परिवार पूरी तरह से खौफ के साए में है। खौफ हो भी क्यों न इनके परिवार के साथ ऐसी घटना हुई है जिसे ये कबि भुला नहीं पाएंगे और अब कहीं शादी की बात करने से पहले दस बार सोचेंगे। इसके बाद तुरंत पुलिस को बुलाया गया।

पुलिस ने मामला दर्ज कर मामले की तफ्तीश जारी कर दी है। पुलिस अंदाज़ा लगा रही है की इन लोगों ने कोई पहली बार ऐसा नही होगा , जहाँ ये लोग रिश्ता पक्का करते और दूसरी तीसरी मुलाकात में या तो धोका देकर या फिर चाकू या बन्दुक की नोक पर घर वालों को लूट केते थे ।  ये गिरोह मेरठ में भी इस तरह की वारदातों को अंजाम दे चूका है और अब पुलिस की जाँच और भी तेज़ हो गई है की ये गैंग और कहाँ व कितने लोगों को ठग चुकी है. फिलहाल दिल्ली पुलिस की क्राईम ब्रांच ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जिसमें एक महिला जो की ज़ाहिदा लड़के की मौसी ( खाला ) और साजिद जो 27 साल का ( लड़के का दोस्त ) बने हुए थे। ये दोनों आरोपी अपने आप को बेकसूर बता रहे है इस पूरी गैंग में तीन महिला समेत कुल सात लोग है। जिनमे से दो को दिल्ली पुलिस की क्राईम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस इनके बाकि के साथियो की तलाश कर रही है और पुलिस को शक है कि हो सकता है इन्होंने शादी के बहाने और लोगो को भी निशाना बनाया हो।

Comments are closed.