पीएम मोदी थे आतंकियों के निशाने पर?

नई दिल्ली । भारत-पाक समुद्री सीमा पर पोरबंदर के नजदीक जिस पाकिस्तानी नौका ने खुद को धमाके से उड़ा लिया, ऐसा लगता है कि उसमें सवार आतंकियों के निशाने पर कोई और नहीं बल्कि पीएम मोदी थे। इंडियन कोस्टगार्ड की सूझबूझ और निगरानी के दम पर आतंकियों की इस मंशा को नाकाम कर दिया गया। इस आशंका को बल इसलिए भी मिलता है क्योंकि पाकिस्तानी नौका को कोस्टगार्ड और सुरक्षा एजेंसियों ने पोरबंदर से सटे समुद्री सीमा पर खदेड़ा और पीएम नरेंद्र मोदी को भी वाइब्रेंट गुजरात समिट में शामिल होने के लिए पोरबंदर ही जाना था। इससे भी बड़ा तथ्य मीडिया में आ रही खबरों से मिलता है। वह यह कि घटना के बाद पीएम मोदी ने पोरबंदर की 12 जनवरी की अपनी यात्रा टाल दी है। वहीं, रक्षा मंत्रालय का दावा भी आतंकियों के निशाने पर मोदी के होने की आशंका को बल देता है। मंत्रालय के मुताबिक पाकिस्तानी नौका में भारी मात्रा में गोला-बारूद थे।अब अगर आतंकियों और विस्फोटकों से भरी नौका का रुख उस ओर हो जहां मोदी का दौरा प्रस्तावित है तो इस आशंका को भला कैसे खारिज किया जा सकता है कि हो ना हो आतंकवादियों के निशाने पर पीएम नरेंद्र मोदी ही थे।

Comments are closed.