नरेला में खेल सुविधाओं का अभाव

नईदिल्ली । देश में खेल का डंका बजाने वाले सरकारों की नाक के नीचे क्या हो रहा है कुछ नही पता है । राजधानी दिल्ली के नरेला क्षेत्र में एक पार्क इसी खेल को बढाने के उदे्श्य से बनाा गया था लेकिन अब उसके अंदर बडी बडी घांसो ने अपनी जगह बना लिया हैं। फेडरेशन ऑफ नरेला के अध्यक्ष जोगीन्द्र दहिया का कहना है सगठन की ओर से सरकार को बहुत बार लिखित व मिलकर खेल परिसरों को विकसित कराने का प्रयास किया परन्तु आज तक सरकार ने इस और कोई ध्यान नही दिया।
इसी क्षेत्र को लेकर अंतर्राष्ट्रीय बालीबाल राज सिंह कोच का कहना है जब बच्चांे को खेलने के लिए अच्छा स्थान अच्छा वातावरण उपलव्ध नही होगा। तब तक ग्रामीण बच्चांे का विकास सम्भव नही हो सकता। खिलाडी रजत शर्मा का कहना है, सरकार ने इस और तुरंत ध्यान देना चाहिये तभी बच्चो की प्रतिभा निकल कर बहार आएगी ।जब बच्चे विकसित होगे तो देश भी विकसित जरूर होगा।
जबकि ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्र नरेला विधान सभा में बच्चो को विकसित करने के लिए अभी तक कोई खेल परिसर नही है जब की चुनावांे में सभी पार्टी वादा करती है की आप के बच्चो के विकास का काम करेंगे परन्तु पूरी दिल्ली को देखे तो नरेला की हर बार अनदेखी होती रही है हमारे यहाँ जितनी जगह बच्चो के खेलने की है उन सभी जगह बडी बडी घास व् झाडी खडी है सरकार ने आज तक इस ओर कोई ध्यान नही दिया।ग्रामीण महिलाओं ने कहा कि हमारे बच्चों का विकास नही हो पाता।

Comments are closed.