Sunday, June 23, 2024
Homeअन्यट्विटर ने उपराष्ट्रपति के बाद RSS प्रमुख मोहन भागवत के अकाउंट को...

ट्विटर ने उपराष्ट्रपति के बाद RSS प्रमुख मोहन भागवत के अकाउंट को किया अनवेरिफाई

नेहा राठौर

देश में केंद्र सरकार और ट्विटर के बीच एक बार फिर से नया विवाद शुरू हो गया है। इस विवाद की वजह ट्विटर अकाउंट से ब्लू टिक हटाने को लेकर होने की संभावना जताई जा रही है। वो इसलिए क्योंकि शनिवार की सुबह ही देश के उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के ट्विटर अकाउंट से ब्लू टिक को हटा दिया गया था और अब आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के अकाउंट को भी अनवेरिफाई कर दिया गया है यानी अब उनके अकाउंट से भी ब्लू टिक को हटा दिया गया है।

जैसे ही वेंकैया नायडू के अकाउंट से ब्लू टिक हटाने को लेकर विवाद छिड़ा तभी ट्विटर की तरफ से सफाई आई कि अकाउंट में लॉग इन हुए इन्हें 6 महीने से ज्यादा समय हो चुका थे, इसी कारण इनके अकाउंट से ब्लू टिक को हटाया गया था। ट्विटर से मोहन भागवत के अकाउंट से ब्लू टिक हटने के पीछे भी यही वजह हो सकती है। बता दें कि मोहन भागवत का ट्विटर अकाउंट करीब मई 2019 में बनाया गया था और उनके अकाउंट पर एक भी ट्वीट नहीं दिख रहा है।

ये भी पढ़े   – PM मोदी ने पुणे में E -100 पायलट परियोजना का किया शुभारंभ

यह पहली बार नहीं है इससे पहले कई बड़े नेताओं के अकाउंट से भी ट्विटर ने ब्लू टिक हटाया जा चुका है। इन नेताओं में सुरेश सोनी, सुरेश जोशी और अरुण कुमार जैसे दिग्गज नेता शामिल है।

ट्विटर के नियमों के अनुसार अकाउंट बनाने के बाद करीब 6 महीने में लॉग इन करना जरूरी है, तभी उसे एक्टिव माना जाएगा। लॉग इन करने का मतलब यह नहीं कि आपको ट्वीट, रिट्वीट, लाइन, फॉलो, अनफॉलो करना जरूरी है बस एक बार लॉग इन करना जरूरी है, ताकि आपकी प्रोफाइल अपडेट रहे।

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे ।

आप हमें Twitter , Facebook , और Instagram पर भी फॉलो कर सकते है।                      

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments