Wednesday, June 19, 2024
Homeमनोरंजनमहाराजा अग्रसेन पर टीवी सीरियल बनेगा, स्टूडियो का उद्घाटन

महाराजा अग्रसेन पर टीवी सीरियल बनेगा, स्टूडियो का उद्घाटन

नई दिल्ली। श्री अग्रसेन महाराज के जीवन पर आधारित बहुप्रतीक्षित टीवी धारावाहिक जय श्री अग्रसेन बनने की दिशा में आज एक कदम आगे बढ़ा दिया। इस टीवी सीरियल के लिए बने स्टूडियो का आज उद्घाटन हुआ। यह भी ऐलान किया गया कि इसकी शूटिंग 16 फरवरी से शुरू हो जाएगी। स्टूडियो के उद्घाटन के मौके पर अग्र विश्व टीवी से जुड़े पदाधिकारियों के अलावा दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन, राज्य सभा सांसद सुशील गुप्ता भी मौजूद थे।

सभी ने 5 हज़ार साल पुराने दिव्य ग्रन्थ के दर्शन किये और उम्मीद जताई की महाभारत और रामायण की तर्ज पर यह सीरियल न केवल महाराजा अग्रसेन के सिद्धांतों को समस्त समाज के सामने रखेगा बल्कि समाज में नयी चेतना का भी संचार करेगा। इस अवसर पर अग्रवाल समाज के संत कहे जाने वाले महर्षि रामगोपाल बेदिल ने कहा कि आख़िरकार वह सपना सच होने की दिशा में बढ़ ही गया जो उन्होंने 30 साल पहले देखा था। सपना है महाराजा श्री अग्रसेन के जीवन और उनके सिद्धांतों पर आधारत टीवी सीरियल का निर्माण करना। रोहिणी में अब वह स्टूडियो भी  बनकर तैयार है जहाँ बहुप्रतीक्षित टीवी सीरियल का निर्माण होगा। करीब 2000 गज में बने इस स्टूडियो का उद्धघाटन दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन और राज्यसभा सांसद सुशील गुप्ता की मौजूदगी में हुआ।

इस मौके पर समाज के कई बड़े उद्योगपति और अग्रसमाज की प्रमुख संस्थाओं के प्रतिनिधि भी मौजूद रहे। अग्र विश्व टेलीफिल्म के प्रमुख लोगों में महामंत्री गोपाल गोयल, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बीपी गर्ग, नत्थू राम जैन, कोषाध्यक्ष सीए बीएल गुप्ता ने आए हुए सभी प्रमुख मेहमानों का स्वागत किया।दिल्ली सरकार के मंत्री सतेंद्र जैन और सांसद सुशील गुप्ता ने महाराजा अग्रसेन जी के सिद्धांतों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उन्हें गर्व है कि वे उस समाज से आते हैं जो लोक कल्याण की चिंता करता है।दिल्ली सरकार के मंत्री सतेंद्र जैन ने कहा कि सारे लोक का कल्याण हो, अग्रसेन जी का यही सिद्धान्त है। इस सिद्धांत को यह सीरियल पूरा करेगा। 216 एपिसोड का यह हैं । घर घर तक अग्रसेन जी का सन्देश पहुचेगा।

राज्यसभा सांसद सुुशील गुप्ता ने टीम को बधाई देते हुए कहा कि परोपकार और विश्व कल्याण की परंपरा को आगे बढ़ाते रहे । दया, धर्म, शिक्षा और स्वास्थ्य के महाराजा अग्रसेन सबसे बड़े समाजवाद के ध्वजा वाहक बने। एक रुपया, एक ईंट का सिद्धांत । इस सीरियल के शुरू होने की कहानी भी कम रहस्यमय नहीं है। यह कहानी इस ग्रन्थ के आधार पर है। ग्रन्थ करीब  30 साल पहले महर्षि रामगोपाल बेदिल को रहस्यमय परिस्थतियों में मिला। केवल 216 पृष्ठ और 49 ग्राम वजन वाले इस ग्रन्थ को 5 हज़ार वर्ष पूर्व बताया जाता है। पहले इस ग्रंथ को समझने में वर्षों लग गए फिर इसे संस्कृत में श्लोकबद्ध किया गया।

ये भी पढ़ेंकिसानों को वाई फाई, जल बोर्ड कर्मचारियों को वेतन नहीं

इसके बाद देश के जाने माने प्रकाशक ज्ञान पब्लिसिंग ने इसे 14 भाषाओं में प्रकाशित किया। अब इस ग्रंथ पर धारावाहिक बनाने के प्रयास शुरू हुए हैं। इस मौके पर महर्षि रामगोपाल बेदिल ने सीरियल के बनाने की उपयोगिता और आज के हालत पर भी चर्चा और चिंता व्यक्त की।लेखक, निर्देशक और अग्रभागवत प्रणेता राम गोपाल बेदिल ने कहा कि धर्म और राजनीति को दुकानदारी बना दिया है। ये एक क्रांति की कथा है जो विश्व को बदल देगी। अग्रसेन को ही आद्य महालक्ष्मी ने वरदान दिया था। दैविक ऊर्जा ही तीनों ऊर्जा को संरक्षित करेगी।

यह सीरियल अग्रविश्व टेलीफिल्म के जरिये बन रहा है। दो वर्ष पहले इसकी तैयारियों ने तेज़ी पकड़ी थी। इसके लिए बाकायदा महाभारत धारावाहिक से जुड़े बड़े कलाकारों और निर्माता निर्देशकों से भी कई दौर की चर्चा हुई। फिर कोरोना काल में यह मामला फिर ठंडा पड़ गया लेकिन जैसे ही कोरोना का डर कुछ कम हुआ तो इसके निर्माण में फिर तेज़ी आ गयी। इससे जुड़े पदाधिकारी भी बेहद खुश है।जाने माने समाज सेवी सत्यनाराण की अध्यक्षता में हुए इस कार्यक्रम का उद्घाटन जाने माने समाजसेवी एसएस अग्रवाल ने किया। अब सभी की उत्सुकता इस बात में है कि कितनी जल्दी इस सीरियल का उद्घाटन होता है उतना भव्य इस सीरियल के होने की चर्चाएं हैं। इसे लेकर हैरानी है कि दिल्ली एनसीआर का सबसे बड़ा स्टूडियो और इतना भव्य सीरियल रोहिणी में बन रहा है। केवल अग्रवाल समाज के लिए ही नहीं बल्कि रोहिणी के लिए भी यह एक बड़ी उपलब्धि है।

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे।

आप हमें Twitter , Facebook , और Instagram पर भी फॉलो कर सकते है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments