नीलगाय ने मारी टक्कर , हालत नाजुक

दिल्ली के अलीपुर में मुखेलपुर गाँव के पास बने पुश्ते पर स्कूटर सवार दो छात्रों को नीलगाय ने ऐसी टक्कर मारी की उन छात्रों के सर फट गए और सर्जरी करने के बाद भी उनकी हालत नाजुक बताई जा रही है चश्मदीदों के मुताबिक इस तंग सड़क के दोनों और घने जंगल है और इसी जंगल से नीलगाय अचानक से गाड़ियो , स्कूटर , बाइको के सामने आ जाती है और एक्सीडेंट हो जाते है। बतया जा रहा है की ये छात्र स्कूटर पर स्कूल से घर जा रहे थे की अचानक तेज़ रफ़्तार स्कूटर के सामने से एक नीलगाय आकर टकरा गयी और तुरंत भाग गयी पर ये दोनों खून में लथपथ तड़पते रहे । आनन फानन में इन्हे पास के ही अस्पताल में ले जाया गया जहा सर में ज्यादा चोट लगने के कारण एक छात्र की हालत गंभीर बनी हुई है ।

पुलिस अभी इन दोनों लड़को की पहचान नहीं कर पायी है इन छात्रों के पास स्कूली किताबे थी और उसपर लिखे पते के आधार पर छात्रों के परिजनों को ढूंढने की कोशिश कर रही है चश्मदीदों को कहना है की यहाँ इस तरह की घटनाओ का होना एक आम बात है इस जंगल की झड़िया सड़क तक आ जाती है जिससे सामने से आ रही गाड़िया और पशु दिखाई नहीं देते और इस तरह के हादसे हो जाते है । दोनों छात्रों को नरेला स्थित सत्यवादी हरिश्चंदर अस्पताल में ले जाया गया है जहा इनकी हालत नाजुक है। पुलिस मामले की तफ्तीश में लगी है और इन छात्रों की पहचान करने की कोशिश कर रही है अब जरुरत है की सरकार इन सड़को को बड़ा करे और जंगल की झाड़ियो को कटवाए ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओ पर रोक लगायी जा सके ।

Comments are closed.