Monday, May 27, 2024
Homeअन्यKarnataka CM Race : डीके शिवकुमार या सिद्धारमैया...सीएम के नाम पर सस्पेंस...

Karnataka CM Race : डीके शिवकुमार या सिद्धारमैया…सीएम के नाम पर सस्पेंस और बढ़ा, मल्लिकार्जुन खरगे के घर कई दौर की बैठक 

 

Karnataka Government Formation: कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के तीन दिन बाद भी कांग्रेस (Congress) मुख्यमंत्री के नाम का एलान नहीं कर पाई है. मंगलवार (16 मई) को भी पूरे दिन पार्टी में मुख्यमंत्री (CM) पद को लेकर मंथन होता रहा. सीएम पद के दावेदार सिद्धारमैया (Siddaramaiah) और डीके शिवकुमार (DK Shivakumar) दोनों ही दिल्ली में हैं. इन दोनों के बीच जी परमेश्वर (G Parameshwara) के समर्थकों ने भी उन्हें सीएम बनाने की मांग करते हुए हंगामा शुरू कर दिया है

 

1. कर्नाटक का अगला मुख्यमंत्री चुनने के लिए कांग्रेस में मंगलवार को भी गहन मंथन जारी रहा. पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ बैठक कर विस्तृत चर्चा की. दोनों के बीच करीब डेढ़ घंटे तक बातचीत हुई.

2. मल्लिकार्जुन खरगे के आवास पर हुई इस बैठक में पार्टी के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल और कर्नाटक प्रभारी रणदीप सुरजेवाला शामिल हुए. खरगे ने सोमवार को भी पार्टी के तीनों पर्यवेक्षकों और वरिष्ठ नेताओं के साथ चर्चा की थी. पर्यवेक्षकों ने नवनिर्वाचित विधायकों की राय के आधार पर उन्हें अपनी रिपोर्ट भी सौंपी थी.

3. इसके बाद शाम के समय खरगे ने पहले डीके शिवकुमार और सिद्धारमैया से अलग-अलग मुलाकात की. पहले शिवकुमार खरगे के आवास पर पहुंचे और वहां करीब आधे घंटे तक रहे. उनके जाने के बाद सिद्धारमैया ने कांग्रेस अध्यक्ष से मुलाकात की. सिद्धारमैया एक घंटे से अधिक समय तक खरगे के आवास पर रहे. इस मुलाकात के बाद दोनों नेताओं ने मीडिया से बात नहीं की.

4. इस मुलाकात से पहले शिवकुमार ने कहा था कि कांग्रेस पार्टी मेरा मंदिर है, कांग्रेस पार्टी हमारी सबसे बड़ी ताकत है इसलिए किसी को चिंता करने की जरूरत नहीं है. उन्होंने प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने से जुड़ी एक खबर को खारिज करते हुए कहा कि कांग्रेस उनके लिए मां की तरह है और इस्तीफा देने का सवाल ही नहीं उठता.

5. कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल भी मल्लिकार्जुन खरगे के आवास पर पहुंचे थे. खरगे से मुलाकात के बाद वेणुगोपाल ने कहा कि निर्णय आएगा, इंतजार कीजिए. जल्द से जल्द अच्छा फैसला आएगा. वहीं कांग्रेस के मीडिया विभाग के प्रमुख पवन खेड़ा ने कहा कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री का फैसला अगले एक-दो दिन में हो जाएगा.

6. इस राजनीतिक हलचल के बीच सूत्रों ने बताया कि खरगे से मुलाकात में डीके शिवकुमार ने उन्हें सीएम बनाने पर जोर दिया. साथ ही कहा कि हम सिद्धारमैया की वजह से 2019 में हार गए और 2020 में हमारी सरकार भी गिरी, फिर सिद्धारमैया को क्यों सीएम बना रहे हैं. सूत्रों का ये भी कहना है कि डीके शिवकुमार अब तक नहीं माने हैं और सीएम से कम पर शायद नहीं मानेंगे.

7. कुरुबा समुदाय से ताल्लकु रखने वाले सिद्धारमैया और वोक्कालिगा समुदाय से आने वाले शिवकुमार मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं. सिद्धारमैया सोमवार को ही दिल्ली पहुंच गए थे जबकि शिवकुमार मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे.

8. इस बीच, कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष जी परमेश्वर ने अपनी दावेदारी पेश करते हुए कहा कि अगर पार्टी आलाकमान उन्हें मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी देती है तो वह इसे संभालने के लिए तैयार हैं. परमेश्वर के समर्थकों ने कर्नाटक के तुमकुरु में उनके लिए मुख्यमंत्री पद की मांग को लेकर धरना भी दिया.

9. सूत्रों ने बताया कि मल्लिकार्जुन खरगे सभी नेताओं से विचार-विमर्श करने के बाद अंतिम निर्णय के लिए राहुल गांधी और सोनिया गांधी से परामर्श करेंगे. सूत्रों के मुताबिक, सीएम के नाम की घोषणा बुधवार को की जा सकती है. ये घोषणा दिल्ली में नहीं बल्कि बेंगलुरु में की जाएगी. फैसले के बाद सीएलपी की बैठक बुलाई जाएगी और फिर सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए गवर्नर के पास जाएंगे.

10. कांग्रेस ने शनिवार को जारी किए गए कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजों में 135 सीटों पर जीत हासिल करते हुए बीजेपी को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखाया था. बीजेपी केवल 66 सीटें ही जीत पाई. सीएम के नाम पर चर्चा के लिए रविवार शाम को बेंगलुरु में कांग्रेस विधायक दल की बैठक हुई थी. जिसमें सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कर पार्टी अध्यक्ष खरगे को विधायक दल का नेता चुनने का अधिकार दिया गया, जो कर्नाटक का अगला मुख्यमंत्री बनेगा. हालांकि, अभी तक सीएम के नाम पर सस्पेंस बरकरार है.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments