Wednesday, June 19, 2024
Homeआज का दिनअंतर्राष्ट्रीय पतंग दिवस

अंतर्राष्ट्रीय पतंग दिवस

नेहा राठौर(14 जनवरी)

एक त्यौहार पतंगों के साथ

आज यानी 14 जनवरी को पतंग दिवस मनाया जाता है। पतंग उड़ाना सबको अच्छा लगता है, अच्छा उड़ाना न सही पर रंग- बिरंगा असमान तो अच्छा लगता ही होगा। पतंग दिवस वह दिन है जो अलग-अलग लोगों को एक दुसरे से जोड़ता है। इस दिन हर व्यक्ति अपनी पतंग को सजाता है और उड़ाता है। यह वो दिन है जब आप पतंग की तरह खुद को भी आजाद समझने लगते है।

अंतर्राष्ट्रीय पतंग दिवस का इतिहास

अतर्राष्ट्रीय पतंग दिवस भारत में गुजरात राज्य में शुरू हुआ था, जो कि हर साल होने वाले त्योहारों के लिए प्रसिद्ध है। इस दिन के लिए गुजरात के निवासी महीनों पहले से पतंग बनाना शुरू कर देते हैं, ताकि वे सबके लिए पर्याप्त हो सकें, क्योंकि लाखों लोग पतंग त्यौहार के दौरान गुजरात आते हैं, जिसे हिंदी में उत्तरायण कहा जाता है, यह त्यौहार उस दिन को मनाया जाता है जिस दिन सर्दी समाप्त होती है और गर्मियों की शुरूआत होती है। इसी के साथ ही साथ आगामी फसल का मौसम भी होता है, और लोगों की यह भी मान्यता है कि पतंग देवों की आत्माओं का प्रतीक है जो अपनी गहरी सर्दियों की नींद से जागते हैं।

ये भी पढ़ें  – 1964 : कोलकाता में दंगे

आसान शब्दों में कहा जाए तो, पतंगबाजी रॉयल्टी और बहुत अमीर लोगों द्वारा चलने वाला एक खेल था, लेकिन अब यह सभी के लिए एक त्यौहार बन गया है, जिसमें देश और दुनिया भर खासकर जापान के लोग, इटली, यूके, कनाडा, ब्राजील, इंडोनेशिया, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, मलेशिया, सिंगापुर, फ्रांस और चीन से लोग हिस्सा लेने के लिए आते हैं।

त्यौहार को मनाने का तरीका

इस त्यौहार को मनाने के कई तरीके है आप अगर 14 जनवरी को गुजरात में है, तो आप इस दिन का भरपूर आनंद ले सकते है। यह पूरी तरह से अविश्वसनीय अनुभव होने की गारंटी है, इस दिन आप अपने परिवार के साथ कुछ नई और अच्छी यादें संज्जों पाएंगे। इस दिन हजारों लोगों से मिल सकते हैं। आप अपना खुबसुरत दिन लाखों रंगीन पतंगों के साथ बिता सकते है। यहां सुबह से शाम तक स्वादिष्ट, पारंपरिक भारतीय व्यंजन सभी उपल्बध होते है। यह सिलसिला यहां सुबह 5 से रात तक चलता है, यहां रात को रोशनी और मोमबत्तियों से भरे हुए पतंगों को जिन्हें हम टुकड़ियों के  नाम से जानते है अंधेरे आसमान में उड़ाया जाता है।

ये भी पढ़ें  – स्टिकर दिवस पर कुछ इस तरह व्यक्त होती है भावनाएं  

अगर आप अंतर्राष्ट्रीय पतंग दिवस के लिए गुजरात में नहीं हैं, तो इसका मतलब यह नहीं है कि आप इसका अपने तरीके से आनंद नहीं ले सकते। एक तरिका है जिससे आप इस त्यौहार को अपने ढंग से मना सकते हो, बस पतंग खरीदना और उसे उड़ाने के लिए पास के पार्क में ले जाना होगा। जहां आप पतंग उड़ाकर इस त्यौहार का आनंद ले सकते है। 

देश और दुनिया की तमाम ख़बरों के लिए हमारा यूट्यूब चैनल अपनी पत्रिका टीवी (APTV Bharat) सब्सक्राइब करे।

आप हमें Twitter , Facebook , और Instagram पर भी फॉलो कर सकते है।   

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments