खिलाड़ियों से कर वसूलना जायज़ नहीं: दिग्विजय चौटाला

-ऋषभ दुआ

शुक्रवार को दिग्विजय चौटाला ने दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस रख, हरियाणा सरकार पर सीधा निशाना साधा। जिसमें उन्होंने भाजपा सरकार के खिलाड़ियों से 33% टैक्स वसूलने के फैसले का पुरज़ोर विरोध किया। प्रेस कांफ्रेंस में इनेलो राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय चौटाला ने इस फैसले को जल्द से जल्द वापिस लेने की मांग की।
चौटाला ने कहा “कि इन्हीं खिलाडियों ने हरियाणा का नाम पूरी दुनिया में रोशन किया हैं। ये खिलाड़ी ही हमारे हरियाणा के ताज हैं और हरियाणा सरकार ने प्रोफेसनल खिलाडियों पर 33 प्रतिसत लगान लगा कर अंग्रेजो के राज की याद ताजा कर दी।हरियाणा सरकार, खेल-मंत्री और आरएसएस प्रदेश में खेलों को खत्म करने पर तुली हुई है। हमारी पार्टी के चौधरी ओम प्रकाश चौटाला जब इस प्रदेश के मुख्यमंत्री थे तब “पदक लाओ, पद पाओ” की योजना बनाई थी। इनेलो सदैव खिलाडियों के साथ हैं और खिलाडियों के साथ मिलकर उनकी आवाज को जोर शोर से उठाएगी और सरकार से 24 घंटे में इस तुगलकी फरमान को वापिस लेने की मांग करती हैं।”
उन्होंने शिक्षा का मुद्दा उठाते हुए बताया कि सरकार ने 59 कॉलेजों में मुख्य कोर्सों को बंद करने की भी इनेलो निंदा करती है। एक ओर तो सरकार शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए, नए कॉलेज खोलने की बात करती है, दूसरी ओर पुराने कॉलेजों में कई कोर्स को बन्द किया जा रहा हैं, जो सरकार की कथनी और करनी में अंतर दिखाता हैं।
छत्र संघ चुनाव पर सरकार को घेरते हुए चौटाला ने कहा कि सरकार ने 4 सप्ताह का समय मांगा था, लेकिन आज 4 महीने बाद भी इन चुनावों के लिए किसी भी विश्वविद्यालय के कैलेंडर में कोई प्रावधान नहीं किया और न ही किसी प्रकार का बजट दिया, जो सरकार की गलत मंसा को दर्शाता है। अब हमें एक बार फिर से आंदोलन का रास्ता चुनना होगा तथा इनेलो के स्थापना दिवस 5 अगस्त को केथल में इस आंदोलन की घोषणा की जाएगी तथा सरकार को झुकने पर मजबूर किया जाएगा। इस अवसर पर दिल्ली इनलो के प्रवक्ता दिनेश डागर युवा नेता शंपी सिंह फोगाट भी उपस्थित थे।

Comments are closed.