Friday, April 19, 2024
Homeअन्यDelhi Crime : स्कूटर से टकराई मीट व्यापारियों की कार, तीन पुलिसकर्मियों...

Delhi Crime : स्कूटर से टकराई मीट व्यापारियों की कार, तीन पुलिसकर्मियों समेत 7 ने की बुरी तरह पिटाई, चेहरे पर कर दिया पेशाब

अपनी पत्रिका ब्यूरो 

देश की राजधानी नई दिल्ली से दो मीट व्यापारियों को पीटे जाने का मामला सामने आया है। आरोप है दिल्ली पुलिस के तीन जवानों सहित कुल 7 लोगों ने पूर्वी दिल्ली में दो मीट व्यापारियों की बुरी तरह से पिटाई की है। पूर्वी दिल्ली के एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने बताया कि दो मीट व्यापारियों को दिल्ली पुलिस के तीन कर्मचारियों सहित कुल सात लोगों पर पीटने और लूटने के आरोप हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार, यह घटना 7 मार्च की है, जब दो मीट व्यापारी अपनी कार में जा रहे थे। उन्होंने स्कूटर को टक्कर मार दी।

पुलिस ने गुरुवार बताया कि आरोपी ‘गौ-रक्षक’ बताए जा रहे हैं। आरोप है कि इन्होंने मीट व्यापारियों के चेहरे पर पेशाब कर दिया और उन्हें जान से मारने की धमकी दी। घटना की जानकारी तुरंत दिए जाने के बाद भी मामले की FIR चार दिन बाद दर्ज की गई। पुलिस ने बताया कि सभी 7 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। मामले में आरोपी तीन पुलिसकर्मियों में से एक असिसटेंड सब-इंस्पेक्टर है। इन तीनों को सस्पेंड कर दिया गया है।

FIR के अनुसार, पीड़ितों में से एक मीट व्यापारी का नाम नवाब है। वह गाजीपुर बुचड़खाने को मीट सप्लाई करता है। वह दिल्ली के मुस्तफाबाद का रहने वाला है। घटना वाले दिन वह अपने कजिन शोएब के साथ अपनी कार में घर जा रहा था। तभी वह आनंद विहार के पास एक स्कूटर से टकरा गया। FIR के अनुसार, वह कार में मीट लेकर जा रहे थे।

FIR में बताया गया है कि स्कूटर ड्राइवर ने मीट व्यापारियों से नुकसान के एवज में चार हजार रुपये की डिमांड की। तभी एक पीसीआर वैन भी वहां आ गई। एक पुलिसकर्मी ने मीट व्यापारियों से 2500 रुपये लेकर स्कूटर ड्राइवर को दे दिए। आरोप है कि इसके बाद पुलिसकर्मी ने मीट व्यापारियों से 15 हजार रुपये की डिमांड की और धमकी दी कि अगर उन्होंने पैसे नहीं दिए तो वह उन्हें पुलिस स्टेशन ले जाएंगे।

मीट व्यापारियों का आरोप है कि पीसीआर में मौजूद पुलिसकर्मियों ने फिर चार लोगों को बुलाया और उन्हें एक सुनसान जगह ले गए। इसके बाद नवाब और शोएब को पीटा गया। आरोप है कि इस दौरान चाकू से दोनों के हाथ काटने के भी प्रयास किए गए। आरोपियों ने उनके चेहरे पर भी पेशाब किया औऱ उन्हें जान से मारने की धमकी दी।

पुलिस ने बताया कि मीट व्यापारियों को चोटें आईं हैं और उन्हें जीटीबी अस्पताल ले जाया गया। इस मामले में आरोपियों के खिलाफ 10 मार्च को जबरन वसूली और स्वेच्छा से चोट पहुंचाने के आरोप में FIR दर्ज की गई। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि FIR में जो आरोप लगाए गए हैं उनकी जांच की जा रही है। आरोपी पुलिसकर्मियों को जांच पूरी होने तक के लिए सस्पेंड कर दिया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments