Monday, July 22, 2024
Homeअन्यBijnaur News : आदर्श विद्या निकेतन इंटर कॉलेज शहबाजपुर में भव्य रूप...

Bijnaur News : आदर्श विद्या निकेतन इंटर कॉलेज शहबाजपुर में भव्य रूप से हुआ छात्र-छात्राओं का विदाई समारोह

रवा राजपूत सभा के जिलाध्यक्ष शिव कुमार राजपूत ने कार्यक्रम की अध्यक्षता तो शिक्षिका पूनम राजपूत ने किया संचालन, प्रिंसिपल गिरिराज सिंह ने अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए छात्र-छात्राओं स्टाफ को दी कार्यक्रम की बधाई

दिल्ली दर्पण टीवी ब्यूरो 

जनपद बिजनौर मंडावर क्षेत्र में पड़ने वाले आदर्श विद्या निकेतन इंटर कॉलेज शहबाजपुर में इंडरमीडिएट के छात्र-छात्राओं का विदाई समारोह भव्य रूप से मनाया गया।  समारोह की शुरुआत मां सरस्वती के सम्मुख दीप प्रज्वलित कर स्वतंत्रता सेनानी रहे और प्रख्यात समाजवादी  ठाकुर हरगुलाल सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर की गई।

इस अवसर पर छात्र-छात्राओं ने मन मोहक प्रस्तुति पेश की दर्शकों का मन मोह लिया। कार्यक्रम में भाग लेने वाले छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत भी किया गया। समारोह की अध्यक्षता रवा राजपूत सभा के जिला अध्यक्ष शिव कुमार राजपूत और संचालन विद्यालय की शिक्षिका पूनम राजपूत ने किया। कार्यक्रम के अंत में विद्यालय के प्रिसिंपल गिरिराज सिंह ने अतिथियों का आने के लिए आभार व्यक्त करते हुए समस्त स्टाफ और छात्र-छात्राओं को कार्यक्रम की बधाई दी।

दरअसल आदर्श विद्या निकेतन इंटर कॉलेज में प्रख्यात समाजवादी ठाकुर हरगुलाल सिंह की प्रतिमा लगे होने से इसका इतिहास बड़ा क्रांतिकारी है। इस विद्यालय का इतिहास पूर्व राज्यपाल धर्मनगरी के कुंवर धर्मवीर और पूर्व मंत्री कुंवर सत्यवीर से जुड़ा है। पूरे समाज में एक यही विद्यालय है जिसमें प्रख्यात समाजवादी ठाकुर हरगुलाल सिंह की प्रतिमा लगी है। वह भी बल्कि वैश्य समाज से आने वाले ठाकुर हरगुलाल के राजनीतिक सहयोगी कुंवर सत्यवीर ने लगवाई थी।

दरअसल रवा राजपूत में ठाकुर हरगुलाल सिंह ऐसे नेता हुए हैं, जिन्होंने बिजनौर ने नाम राष्ट्रीय स्तर पर रोशन किया है। ठाकुर हरगुलाल सिंह का कद राजनीति में कितना बड़ा था, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि ठाकुर हरगुलाल सिंह ने समाजवादी के प्रणेता डॉ. राम मनोहर लोहिया और लोक नायक जयप्रकाश के साथ भी किया।

पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर सिंह से उनके मित्रवत संबंध रहे हैं। पूर्व प्रधानमंत्री वीपी सिंह ने उन्हें चचा कहकर बुलाते थे। मतलब समाज के एक बड़े नेता का सम्मान बस इस विद्यालय में तक ही सीमित रह गया है। ठाकुर हरगुलाल सिंह ऐसेे स्वतंत्रता सेनानी थे, जिन्होंने पेंशन लेने से इनकार कर दिया था। कुंवर सत्यवीर उनकी तारीफ करते-करते थकते नहीं थे। यह गनीमत है कि कम से कम आदर्श विद्या निकेतन इंटर कॉलेज में तो ठाकुर हरगुलाल सिंह को याद कर लिया जाता है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments