हरियाणा में सरकार चलाना आसान नहीं है

हरियाणा प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा  सिरसा पहुंचे। इस दौरान उन्होंने चौधरी रणजीत सिंह व प्रांतीय प्रवक्ता होशियारी लाल शर्मा के कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात की। प्रैसवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार चौधरी रणजीत सिंह के कार्यक्रम में कांग्रेस की गुटबाजी एक बार फिर सामने आ गई। रणजीत सिंह के  यहां कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा ने कहा कि हरियाणा में सरकार चलाना आसान नहीं है, लेकिन हमनें दस सालों तक चलाई है। इन दस सालों में हरियाणा 14वें नंबर से पहले नंबर पर आ गया था, लेकिन जब से भाजपा की सरकार आई है, इसकी उल्टी गिनती शुरू हो गई है। भाजपा ने चुनाव से पूर्व 159 वायदें किए थे, जिनमें से एक भी पूरा नहीं हुआ। इसलिए अगर हमें आपका आशीर्वाद मिला, तो एक बार फिर हम कांग्रेस की सरकार बनाएंगे। अपने संबोधन में रणजीत सिंह ने कहा कि हुड्डा साहब रैलियां हमने की। पैसा हमने लगाया। यहां वो पैसा एमपी बांट गया। हुड्डा साहब आपको एक बात साफ कहना चाहता हूं कि चुनाव में यहां प्रवासी पक्षी मत भेजना। अगर भेज दिया, तो मैं साथ नहीं चलूंगा। रणजीत सिंह ने गोपाल कांडा को निशाने पर लेते हुए कहा कि हुड्डा साहब कांडा को मंत्री बना दिया। उसके आगे पॉयलट। मैं और डॉक्टर साहब पैदल। ये कोई बात है। रैलियां करे हम और श्रेय ले जाए कोई और। उन्होंने कहा कि आप मुझे, डॉक्टर साहब, जरनैल सिंह, प्रहलाद सिंह और गिल साहब को देखों। आपकी पीठ नहीं लगने देंगे। पिछले कई महीनों से कांग्रेस को कोई प्रोग्राम नहीं हुआ था। अगर हुआ वो भी फीका इसलिए मैने सोचा कि कोई धाकड प्रोग्राम करेंगे, जिसमें आपको बुलाया जाए। मगर ऐसा नहीं हुआ। रणजीत सिंह के बाद पूर्व सीएम हुुड्डा ने कांग्रेस के प्रांतीय प्रवक्ता होशियारी लाल शर्मा के निवास स्थान पर कार्यकर्ताओं से मिले और इसके बाद सिरसा क्लब में जलपान लिया।

 

Comments are closed.