शिकायतकर्ता छात्रा पर हो सकता है नकल प्रकरण दर्ज

भिण्ड। मा. शि. मं भोपाल से १०+१२वीं की बोर्ड परीक्षाओं में राजस्व विभाग के पटवारी के खिलाफ पुलिस को आवेदन देने वाली छात्रा कीर्ति कौरव पर राजस्व विभाग के कर्मचारियों की पैनी नजर देखी जा रही है और शिकायतकर्ता छात्रा कीर्ति कौरव पर राजस्व विभाग के अधिकारियों के चलते शिक्षक झूठा नकल प्रकरण बना सकते हैं।
ज्ञात रहे कि पूर्व प्रश्न पत्र में छात्रा ने राकेश नागर पटवारी पर अभद्रता का आरोप लगाकर थाने में शिकायत दर्ज कराई थी । उसी दिन से छात्रा के परिवरजनों पर शिकायत वासप लेने का दववा बनाया जा रहा है। शिक्षा विभाग से जु$डे सूत्रों की माने तासे राजस्व विभाग के कर्मचारी छात्रा कीर्ति कौरव पर प्रश्न पत्र के दौरना नकल का झूठा प्रकरण बना सकते हैं।

पांच शिक्षकों को हटाया
बोर्ड परीक्षाओं के चलते परीक्षा में ड्यूटी दे रहे ५ शिक्षको को राजस्व विभाग के कर्मचारियों के प्रतिवेदन पर हटाया गया। इन शिक्षकों में अरूण शर्मा , अतीक खान, सुभाष कौरव, हाकिम कौरव, राजू विश्वकर्मा प्रमुख हैं। यह शिक्षक हायर सेकेण्डरी स्कूल में परीक्षा ड्यूटी में लगाये गये थे। लेकिन इन शिक्षकोां पर राजस्व निरीक्षक ने नकल कराने का शक प्रकट होते हुये शक के आधार पर इन शिक्षकों को राजस्व निरीक्षक ने परीक्षा केंद्र से कार्य मुक्त कर दिया। बताया जाता है कि इन शिक्षकों का हटाना भी पटवारी प्रकरणर से जु$डकर देखा जा रहा है।

दबोह के तीनों सेंटर हाईजैक
परीक्षाओं के चलते तीनों सेंटर हाईजैक हो गये है अभी आपने हवाईजहाजों को हाईजैक होते हुएण् देखा होगा, लेकिन दबोह मे संचालित तीनों परीक्षा केंद्रों को शिक्षा माफियाओं ने अपने स्तर से हाईजैक कर लिया है। इन सेंटरों पर शिक्षा माफियाओं के द्वारा ही हर निर्णय लिये जाते हैं तथा परीक्षा केंद्रो पर शिक्षा माफियाओं के गुर्गे घूमते जनर आते हैं। किस शिक्षक को परीक्षा ड्यूटी में लगाना है किसको हटाना है इासका निर्णय शिक्षा माफियाओं के द्वारा ही लिया जाता है। नकल रोकने के लिये उ$डनदस्ते ने भी इन नकल माफियाओं के सामने घुटने टेक लिये हैं। इन परीक्षा केंद्रो पर जों भी नकल विरोधी दस्ता आता है चाय नाश्ता करके चला जाता है। किसी भी सेंटर पर कोई भी उ$डनदस्ता सेंटर के अंदर नहीं जाता है। इससे साफ जाहिर है कि दबोह के तीनों सेंटरों का नकल माफियाओं ने हाईजैक कर लिया है।

Comments are closed.